इलियासी ने मोहन भागवत को बताया राष्ट्रपिता, पहली बार इमाम से मस्जिद मिलने पहुंचे थे RSS प्रमुख

नई दिल्लीः राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के सर संघचालक मोहन भागवत ने गुरुवार को यहां एक मस्जिद में जाकर उसके मुख्य इमाम से मुलाकात की। उन्होंने आज कस्तूरबा गांधी मार्ग स्थित मस्जिद में ऑल इंडिया इमाम ऑर्गेनाइजेशन के मुख्य इमाम डॉ इमाम उमर अहमद इलियासी से मुलाकात की। मुलाकात के दौरान मुस्लिम राष्ट्रीय मंच के संरक्षक इंद्रेश कुमार भी उनके साथ थे। RSS मोहन भागवत से मुलाकात करने के बाद अखिल भारतीय इमाम संगठन के प्रमुख उमर अहमद इलियासी ने उन्हें राष्ट्रपिता और राष्ट्र ऋषि बताया है। इलियासी ने उन्हें राष्ट्रपति बताते हुए कहा, हम सभी का मनना है कि राष्ट्र सर्वोपरि है। उन्होंने कहा, हमारा डीएनए एक है, सिर्फ अल्लाह की इबादत का तरीका अलग-अलग है।

ये भी पढ़ें..आतंक के नेटवर्क पर NIA का प्रहार, PFI से जुड़े 100 लोग गिरफ्तार

हिजाब विवाद और जनसंख्या नियंत्रण पर भी हुई चर्चा

वहीं संघ के अखिल भारतीय प्रचार प्रमुख सुनील आंबेकर ने मुलाकात के बारे में बताया कि इलियासी साहिब ने भागवत को कई दिन पहले निमंत्रण दिया था। वे निरंतर प्रवास करते हुए विभिन्न क्षेत्रों के लोगों से संवाद करते रहते हैं। यह मुलाकात भी उसी क्रम का हिस्सा है। दिल्ली के कस्तूरबा गांधी मार्ग मस्जिद के बंद कमरे में दोनों के बीच करीब एक घंटे मीटिंग चली। किसी मुस्लिम धार्मिक संगठन के प्रमुख से RSS चीफ की मस्जिद में यह पहली मुलाकात है। RSS सूत्रों की माने तो संघ के विचारों के प्रचार और धार्मिक समावेश के विषय को बढ़ावा देने के लिए दिल्ली में इमामों के साथ यह बैठक आयोजित की गई थी। बैठक में ज्ञानवापी विवाद, हिजाब विवाद और जनसंख्या नियंत्रण जैसी हालिया घटनाओं पर भी चर्चा हुई।

उमर इलियासी भागवत को कहा राष्ट्रपति

दोनों की मुलाकात के बाद पत्रकारों ने इमार उमर अहमद से पूछा कि भागवत ने कुछ समय पहले ‘हिंदू-मुस्लिम का DNA एक’ वाला बयान दिया था, इस पर आप क्या कहेंगे? इमाम ने जवाब में कहा- जो उन्होंने कहा वो सही है, क्योंकि वे राष्ट्रपिता और राष्ट्र ऋषि हैं। जो उन्होंने कह दिया वो ठीक है।

मदरसों में बच्चों की पढ़ाई के बारे में भी जाना

जानकारी के अनुसार दिल्ली में एक मस्जिद के बाद RSS प्रमुख मोहन भागवत दिल्ली के एक मदरसे में गए। आजाद मार्किट के एक मदरसे में बच्चों से उन्होंने मुलाकात की। मदरसों में बच्चों की पढ़ाई के बारे में जाना। मोहन भागवत ने इससे पहले मंगलवार को राष्ट्रीय लोक दल के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष शाहिद सिद्दीकी, पूर्व मुख्य चुनाव आयुक्त एसवाई कुरैशी, पूर्व राज्यपाल नजीब जंग, अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी के पूर्व कुलपति जमीरुद्दीन शाह और कारोबारी शेरवानी से मुलाकात की थी।

(अन्य खबरों के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें व हमारे यूट्यूब चैनल को भी सब्सक्राइब करें)