पंजाब में अकाली दल और BSP का गठबंधन रहेगा कायम, सीट बंटवारे पर जल्द होगा फैसला

40

चंडीगढ़ः पंजाब में शिरोमणि अकाली दल और बहुजन समाज पार्टी (BSP) के बीच राजनीतिक गठबंधन जारी रहेगा और दोनों पार्टियां मिलकर लोकसभा चुनाव लड़ेंगी। बसपा सुप्रीमो मायावती से मुलाकात के बाद पार्टी की पंजाब इकाई के प्रमुख जसबीर सिंह गढ़ी ने साफ कर दिया है कि अकाली दल और बसपा गठबंधन मिलकर लोकसभा चुनाव लड़ेंगे। जल्द ही बैठक में सीट बंटवारे को लेकर फैसला लिया जाएगा।

अटकलों पर लगा विराम

दरअसल पंजाब में पिछले कई दिनों से अटकलें चल रही हैं कि लोकसभा चुनाव से पहले भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) और शिरोमणि अकाली दल के बीच फिर से गठबंधन होगा। कुछ दिनों से अकाली दल और बहुजन समाज पार्टी के नेताओं के बीच बयानों को लेकर तीखी नोकझोंक जारी है। इस बीच रविवार को बीएसपी अध्यक्ष जसबीर सिंह गढ़ी ने कहा कि बसपा सुप्रीमो मायावती के ऐलान का मतलब है कि बीएसपी एनडीए और भारत गठबंधन में शामिल नहीं होगी।

ये भी पढ़ें..Himachal Pradesh के जाखू में स्थापित होगी श्रीराम की 111 फीट उंची प्रतिमाः सीएम

गठबंधन को लेकर अकाली दल ने दी प्रतिक्रिया

पंजाब में सीट बंटवारे का मामला दोनों पार्टियों के आलाकमान तय करेंगे। उन्होंने कहा कि अकाली दल और बसपा दोनों ही कैडर आधारित पार्टियां हैं। आने वाले विधानसभा चुनाव में नतीजे अच्छे होंगे। वहीं, बसपा के साथ गठबंधन को लेकर अकाली दल नेता दलजीत सिंह चीमा ने भी प्रतिक्रिया दी। उन्होंने कहा है कि वह जल्द ही बसपा नेतृत्व से जरूर मिलेंगे। चीमा का कहना है कि गठबंधन को लेकर हमारी तरफ से कोई दुर्भावना नहीं है। हम हमेशा गठबंधन के पक्ष में रहे हैं।

(अन्य खबरों के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर(X) पर फॉलो करें व हमारे यूट्यूब चैनल को भी सब्सक्राइब करें)