प्रदेश उत्तर प्रदेश Featured

CM योगी की चेतावनी, बहन-बेटी से की छेड़छाड़ तो अगले चौराहे पर मिलेंगे यमराज

yogi-adityanath
yogi-adityanath गोरखपुरः मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि सरकार विकास, जनकल्याण और बिना भेदभाव के सभी लोगों को योजनाओं का लाभ दिलाने के लिए कृतसंकल्पित और समर्पित है। यदि सरकार के साथ नागरिक भी अपने कर्तव्यों का निर्वहन करते रहें तो विकास कार्यों में बाधक बनने वाले लोग अपने आप बेनकाब हो जायेंगे। सरकार विकास परियोजनाओं में बाधक बनने वालों को बेनकाब करने पर भी तेजी से काम कर रही है। सीएम योगी रविवार को मानसरोवर रामलीला मैदान में आयोजित समारोह में 343 करोड़ रुपये की विकास परियोजनाओं का शिलान्यास और उद्घाटन करने के बाद सभा को संबोधित कर रहे थे। विकास और जनकल्याण के लिए मजबूत कानून व्यवस्था का जिक्र करते हुए उन्होंने कहा कि कानून सुरक्षा के लिए है लेकिन कानून को बंधक बनाकर व्यवस्था को तोड़ने की कोशिश करने की इजाजत किसी को नहीं है। कानून सुरक्षा के लिए है लेकिन अगर किसी बहन-बेटी के साथ कोई छेड़छाड़ करेगा तो अगले चौराहे पर यमराज उसका इंतजार कर रहे होंगे। विकास कार्यों में लापरवाही बर्दाश्त नहीं मुख्यमंत्री ने विकास कार्यों को सरकार की सर्वोच्च प्राथमिकता मानते हुए कहा कि विकास कार्यों में किसी भी स्तर पर लापरवाही नहीं होनी चाहिए। किसी भी प्रकार की लापरवाही बर्दाश्त नहीं की जाएगी। कार्यदायी संस्था कोई भी हो, उसे मानक एवं गुणवत्ता के साथ विकास कार्य कराने के लिए प्रतिबद्ध होना होगा। विकास ही गोरखपुर और यूपी की पहचान सीएम योगी ने कहा कि आज विकास ही गोरखपुर और उत्तर प्रदेश की पहचान है. छह साल पहले प्रदेश में गोरखपुर और देश में उत्तर प्रदेश के प्रति लोगों की क्या धारणा थी, उनकी पहचान क्या थी, विकास की स्थिति क्या थी, यह सभी जानते हैं। पीएम मोदी के मार्गदर्शन में पिछले छह वर्षों में उत्तर प्रदेश और गोरखपुर ने विकास के जरिए अपनी नई पहचान बनाई है। आज उत्तर प्रदेश देश में विकास, सुशासन और उत्कृष्ट कानून व्यवस्था के लिए पहचाना जाता है। यहां दशकों से लंबित परियोजनाएं पूरी की जा रही हैं। ये भी पढ़ें..रेलवे ने बदला अगरतला राजधानी एक्सप्रेस का रूट, अब इस स्टेशन... गोरखपुर के पास कश्मीर से अच्छी झील सीएम योगी ने गोरखपुर के विकास कार्यों की चर्चा करते हुए बंद पड़े खाद कारखाने के स्थान पर नये कारखाने की स्थापना, एम्स सहित रामगढ़ताल का कायाकल्प आदि का भी जिक्र किया। उन्होंने कहा कि जम्मू-कश्मीर से अच्छी झील गोरखपुर में रामगढ़ताल के रूप में है। यह एक नई पहचान बन गई है और देश-दुनिया को आकर्षित कर रही है। मुख्यमंत्री ने कहा कि गोरखपुर विकास की नई सोच दे रहा है। जिस रामलीला मैदान में आज यह कार्यक्रम हो रहा है उस पर छह साल पहले कब्जा किया गया था। आज इसका भव्य मंच कई आयोजनों का गवाह बनता है। उन्होंने कहा कि आज गोरखपुर से 14 फ्लाइट की सुविधा है। यदि ऐसा न होता तो आज बारिश के कारण लखनऊ से यहां आना संभव न हो पाता और कार्यक्रम रद्द करना पड़ता। (अन्य खबरों के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें व हमारे यूट्यूब चैनल को भी सब्सक्राइब करें)