लोहिया पथ चक्र का CM नीतीश ने किया निरीक्षण, अधिकारियों को दिए ये निर्देश

0
3

Bihar News: मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने शुक्रवार को लोहिया पथ चक्र का निरीक्षण किया। इस दौरान मुख्यमंत्री लोहिया पथचक्र पर रुके और पथचक्र के बाकी हिस्सों को देखा। मुख्यमंत्री ने पथ निर्माण विभाग के अपर मुख्य सचिव प्रत्यय अमृत को निर्देश देते हुए कहा कि सड़क के शेष हिस्सों में समुचित तरीके से पौधारोपण करें तथा इसे व्यवस्थित एवं साफ-सुथरा रखें ताकि यह क्षेत्र सुंदर दिखे।

इसके बाद मुख्यमंत्री बिहार म्यूजियम के सामने रुके और नवनिर्मित अधिकारियों के फ्लैट के संबंध में जानकारी ली। इस दौरान भवन निर्माण विभाग के सचिव कुमार रवि ने मुख्यमंत्री को बताया कि पुराने अधिकारियों के फ्लैट की जगह पर 10 मंजिल का नया भवन बनाया जायेगा और उसके बगल में एक पार्क भी बनाया जायेगा।

यह भी पढ़ें-CM मोहन यादव ने स्कूली बच्चों संग किया योग, कहा- भारत दुनिया के सबसे युवा देशों में से एक

सीएम ने दिए ये निर्देश

इस दौरान मुख्यमंत्री ने निर्देश देते हुए कहा कि एक बेहतर 10 मंजिला भवन बनाया जाए ताकि अधिकारियों और कर्मचारियों को इसमें रहने की बेहतर सुविधा मिल सके। उन्होंने कहा कि जब फ्लैट के सामने पार्क बनेगा तो इस इलाके का नजारा और भी खूबसूरत लगेगा। अंतर्राष्ट्रीय स्तर का बिहार संग्रहालय बनाया गया है और इसके चारों ओर सब कुछ व्यवस्थित होने से पूरा क्षेत्र आकर्षक लगेगा। यहां एक ऊंचे फुट ओवर ब्रिज का निर्माण किया जाना चाहिए ताकि बिहार म्यूजियम आने वाले लोग ऑफिसर्स फ्लैट की ओर पार्क में आसानी से जा सकें और वहां से भी लोग आसानी से बिहार म्यूजियम आ सकें। उन्होंने कहा कि इन सभी चीजों का निर्माण जल्द शुरू होना चाहिए।

यह भी पढ़ें-बिहार में डॉक्टरों की बड़ी लापरवाही, ऑपरेशन के बाद बच्चे के पैर में छोड़ी सुई, सड़ने लगा पैर

अधिकारियों के लिए बनेंगे नए फ्लैट

निरीक्षण के दौरान पत्रकारों से बातचीत में मुख्यमंत्री ने कहा कि अधिकारियों का फ्लैट पुराना है, जहां बहुत कम लोग रह पाते हैं। इसके स्थान पर एक बहुत ही सुंदर इमारत बनाई जाएगी जिसमें अधिक लोग रह सकेंगे। अधिकारियों-कर्मचारियों को रहने के लिए सुंदर स्थान मिलेगा। यहां एक फुट ओवर ब्रिज बनाया जाएगा ताकि बिहार म्यूजियम आने वाले लोग आसानी से ऑफिसर्स फ्लैट की तरफ पार्क में जा सकें और वहां से भी लोग आसानी से बिहार म्यूजियम आ सकें। हमने इन सभी चीजों का निर्माण कार्य 2-3 साल के भीतर पूरा करने को कहा है।

सीएम ने कहा कि पहले यह क्षेत्र इतना संकरा था, अब हमने यहां चौड़ी सड़क बना दी है, जिससे सभी को आवागमन में सुविधा हो रही है। आपके विरोधी आपके बारे में कहते हैं कि आप काम नहीं कर रहे हैं। पत्रकारों के इस सवाल पर मुख्यमंत्री ने कहा कि कोई क्या कहता है उस पर हम ध्यान नहीं देते, हम अपने काम में लगे रहते हैं, आप लोग सब देख रहे हैं।

(अन्य खबरों के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर(X) पर फॉलो करें व हमारे यूट्यूब चैनल को भी सब्सक्राइब करें)