World Emoji Day आज, जानिए कब हुई इसकी शुरूआत ?

नई दिल्ली: दुनिया भर में 17 जुलाई को विश्व इमोजी दिवस के रूप में मनाया जाता है। आज के दौर में मन की किसी भावना को व्यक्त करने के लिए शब्दों से ज्यादा जिस चीज का इस्तेमाल हम करते है तो वो इमोजी है, क्योंकि आजकल ज्यादातर लोग स्मार्ट फोन का इस्तेमाल करते हैं। व्हाट्सएप हो या फेसबुक लोग चैटिंग के दौरान शब्दों के जरिए भावनों को व्यक्त करने की जगह अक्सर इमोजी का इस्तेमाल करते है। इमोजी आज के दौर में काफी पॉपुलर है।

विश्व इमोजी दिवस की शुरूआत साल 2014 में हुई, वैसे विश्व इमोजी दिवस की शुरुआत ऑस्ट्रेलिया के जेरेमी बर्ज ने की थी। आज इमोजी चैट से लेकर, व्हाट्सऐप स्टेट्स, मैसेज, ट्वीट और फेसबुक, इंस्टाग्राम जैसे विभिन्न सोशल मीडिया के प्लेटफॉर्म्स का जरूरी हिस्सा बन चुकी है।

यह भी पढ़ें- डिज्नीलैंड: कल्पनाओं और रहस्य-रोमांच का अद्भुत संसार

‘इमोजी’ जपानी भाषा के शब्द इ (पिक्चर) और मोजी (पात्र) से मिलकर बना है। एक सर्वे में यह बात सामने निकलकर आई थी कि भारत में लोग सबसे अधिक खुशी के आंसू और ‘ब्लोइंग अ किस’ इमोजी का उपयोग करते हैं। जिस इस्माइली फेस का आज सबसे अधिक इस्तेमाल होता है उसे अमेरिका के हार्वी रोस बॉल ने बनाया था। धीरे-धीरे यह इतना लोकप्रिय हो गया कि आज हर प्लेफॉर्म्स पर उपलब्ध है।

बताया जाता है कि जापान में इमोजी की शुरूआत सबसे पहले 90 के दशक में हुई थी तब जापानी मोबाइल फोन पर इमोजी दिखाई दिए थे और धीरे-धीरे यह पूरी दुनिया में फैल गया। 2010 के बाद इमोजी का इस्तेमाल तेजी से होता गया और अब उनका उपयोग वेबसाइट और एप्स में किया जाने लगा।