DU और JNU में एडमिशन प्रक्रिया में छात्रों की मदद करेंगे प्रोफेसर्स, जारी किए व्हाट्सएप नंबर

नई दिल्ली: जेएनयू और दिल्ली विश्वविद्यालय से सम्बद्ध कॉलेजों में शैक्षिक सत्र 2021-22 में छात्रों के प्रवेश संबंधी शिकायतों के समाधान के लिए एक कमेटी गठित की गई है। अंडरग्रेजुएट एडमिशन के लिए 2 अगस्त से दिल्ली विश्वविद्यालय में प्रवेश के लिए पंजीकरण की प्रक्रिया शुरू हो रही है। यह प्रक्रिया 31 अगस्त तक चलेगी। पीजी कोर्सेज व एमफिल और पीएचडी में पंजीकरण 26 जुलाई से शुरू हो चुके हैं।

डीयू में 2 अगस्त से शुरू हो रही अंडरग्रेजुएट में एडमिशन की प्रक्रिया के मद्देनजर यह कमेटी गठित की गई है। डीयू और जेएनयू में दाखिला प्रक्रिया को लेकर होने वाली किसी भी तरह की शिकायतों के समाधान के लिए गठित इस कमेटी में दिल्ली विश्वविद्यालय के वरिष्ठ प्रोफेसर, कर्मचारी और छात्रों को रखा गया है।

यह भी पढ़ें- झूले का मजा लेते नजर आए पांडा, वीडियो देखकर चेहरे पर आ जाएगी मुस्कान

दिल्ली टीचर्स एसोसिएशन (डीटीए) व छात्र संगठन सीवाईएसएस द्वारा बनाई गई यह कमेटी छात्रों की समस्या का ऑनलाइन समाधान करेगी। ऑफलाइन प्रक्रिया को तरजीह नहीं दी जाएगी। टीचर्स एसोसिएशन के अध्यक्ष डॉ हंसराज सुमन ने बताया है कि छात्र दाखिला संबंधी होने वाली समस्या व्हाट्सएप के माध्यम भेज सकते हैं। व्हाट्सएप,चंद्रमणि देव, अध्यक्ष सीवाईएसएस दिल्ली स्टेट 9718220101, गगन महायान, 9953550251 निखिल कुमार, अध्यक्ष जेएनयू यूनिट, 9560985240 हैदर मेंहदी, सचिव जेएनयू, 7503628353, नितिन के नंबर पर भेजे जा सकते हैं।

छात्रों की मदद के लिए कुछ मोबाइल नंबर जारी किए गए हैं। इन नंबरों पर वो दिल्ली यूनिवर्सिटी के महासचिव कुलदीप कुमार, डॉ. हंसराज सुमन ,अध्यक्ष डीटीए , प्रोफेसर नरेंद्र पाण्डेय, डॉ. सुनील कुमार, मेंबर एकेडेमिक काउंसिल से संपर्क कर सकते हैं। ये लोग एडमिशन कमेटी में कार्य करेंगे । छात्र ईमेल भी कर सकते हैं। इसके अतिरिक्त 9718220101 ,9953550251 ,9560985240 नम्बरों पर व्हाट्सएप कर अपनी समस्या बता सकते हैं।

डीटीए अध्यक्ष डॉ. हंसराज सुमन ने बताया है कि प्रवेश संबंधी शिकायत कमेटी में कॉलेज, विश्वविद्यालय से जुड़े शिक्षकों और कर्मचारियों और छात्रों को रखा गया है जिन्हें वर्षो से प्रवेश कराने का अनुभव है। कमेटी में शिक्षकों की ओर से डॉ. हंसराज सुमन, डॉ. नरेंद्र कुमार पांडेय, डॉ.सुनील कुमार, डॉ. मनोज कुमार सिंह हैं।

प्रोफेसर हंसराज सुमन का कहना है कि छात्र घर बैठे ही दाखिला संबंधी अपनी औपचारिकताएं पूरी कर सकते हैं। घर में सुरक्षित रहकर अपना प्रवेश संबंधी फॉर्म भरे, फॉर्म भरते समय किसी तरह की कोई दिक्कते आती है तो वे दिए गए नम्बरों पर या व्हाट्सएप के माध्यम से जानकारी प्राप्त कर सकते हैं। उनको कॉलेज व विश्वविद्यालय में नहीं जाने की सलाह दी गई है क्योंकि कोरोना के बढ़ते प्रभाव के कारण ही ऐसा निर्णय लिया गया है।

उन्होंने बताया कि कोरोना की तीसरी लहर से आपको बचना है । उन्होंने यह भी बताया है कि दाखिले के दौरान किसी सर्टिफिकेट के ना होने, जाति प्रमाण पत्र या किसी तरह की त्रुटि होने पर छात्रों के सामने दिक्कते आती है तो पहले कॉलेज या विश्वविद्यालय से संपर्क करें।