Operation Ganga : 218 भारतीय को लेकर दिल्ली पहुंची एयर इंडिया की एक और फ्लाइट, स्मृति ईरानी ने किया स्वागत

5117
भारतीय
भारतीय

नई दिल्लीः रूस-यूक्रेन के मध्य जारी जंग के बीच भारत सरकार यूक्रेन में फंसे सभी अपने नागरिकों को वापस लाने के प्रयासों में जुटी हुई है। आपरेशन गंगा के तहत भारतीय नागरिकों को सुरक्षित भारत वापस लाया जा रहा है। इस बीच एक और फ्लाइट यूक्रेन में फंसे 218 भारतीयों को रोमानिया की राजधानी बुखारेस्ट से लेकर बुधवार को नयी दिल्ली पहुंची। वहीं केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी, जितेंद्र सिंह और राजीव चंद्रशेखर ने युद्धग्रस्त देश यूक्रेन से लौटे भारतीय छात्रों का स्वदेश में स्वागत किया। ऑपरेशन गंगा के तहत छात्रों की वापसी का सिलसिला लगातार जारी है। पोलैंड से 218 भारतीय छात्रों को लेकर दिल्ली के इंदिरा गांधी अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे पर आये विमान में पहुंचकर केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी ने छात्रों का स्वागत किया।

ये भी पढ़ें..सपा मुखिया अखिलेश यादव की अपील, बोले-अगर लोकतंत्र बचाना है तो सपा के पक्ष में करें मतदान

इस दौरान उन्होंने गुजराती, बांग्ला और मराठी सहित विभिन्न भारतीय भाषाओं में छात्र से संवाद किया। स्मृति ईरानी ने कहा कि घर वापस आने पर आपका स्वागत है। आपके परिवार सांसे रोककर इंतजार कर रहे हैं। आपने अनुकरणीय साहस दिखाया है। उन्होंने छात्रों से कहा कि फ्लाइट क्रू को भी धन्यवाद दें। इससे पहले बुडापोस्ट से करीब 200 छात्रों को लेकर दिल्ली पहुंचे विमान की अगवानी केंद्रीय मंत्री जितेंद्र सिंह ने की। स्वदेश वापसी पर भारतीय छात्रों का स्वागत करते हुये जितेंद्र सिंह ने कहा कि यूक्रेन में फंसे भारतीय नागरिकों को लेकर प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी चिंतित हैं और ऑपरेशन गंगा की पल-पल की जानकारी ले रहे हैं। सूचनाओं का आकलन कर वे मार्गदर्शन भी कर रहे हैं।

सिंह ने छात्रों को बताया कि एयरपोर्ट परिसर में छात्रों के लिए राज्यवार सहायता डेस्क बनाये गये हैं। वहां जाकर जलपान करने के बाद आगे उनके घर तक पहुंचाने की व्यवस्था की गई है। उन्होंने इस दौरान वापस लौटे छात्रों के साहस और हिम्मत को भी सराहा। इसके अलावा यूक्रेन से स्वदेश लौटे एक अन्य विमान से स्वदेश पहुंचे भारतीयों का स्वागत करते हुये केंद्रीय मंत्री राजीव चंद्रशेखर ने कहा, “मैं अपनी मातृभूमि में आप सभी का स्वागत करता हूं। प्रधानमंत्री हमारे नागरिकों को सुरक्षित वापस लाने के लिए प्रतिबद्ध हैं। जय हिंद।” उन्होंने कहा कि अपने देशवासियों का स्वदेश में स्वागत करते हुए मुझे संतोष हो रहा है। यह संघर्ष की पृष्ठभूमि में एक जटिल ऑपरेशन है। हमारा मिशन भारतीयों को सुरक्षित घर वापस लाना है। समर्थन के लिए आईएएफ और निजी एयरलाइंस को धन्यवाद।

(अन्य खबरों के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर  पर फॉलो करें व हमारे यूट्यूब चैनल को भी सब्सक्राइब करें…)