मुंडका अग्‍न‍िकांड में पुल‍िस की बड़ी कार्रवाई, FIR दर्ज, कंपनी के 2 मालिक गिरफ्तार

नई दिल्लीः दिल्ली पुलिस ने मुंडका अग्निकांड (Mundka fire) मामले में एफआईआर दर्ज कर ली हैं। इस घटना में 27 लोगों की मौत हुई है। इसकी जानकारी एक सरकारी अधिकारी ने दी। पुलिस उपायुक्त (बाहरी) समीर शर्मा ने जानकारी देते हुए बताया कि मामले में संबंधित धाराओं के तहत एफआईआर दर्ज की गई। शुक्रवार की शाम जब आग लगी तब ज्यादातर लोग दूसरी मंजिल पर मौजूद थे। आग सबसे पहले पहली मंजिल पर लगी। पहली मंजिल पर सीसीटीवी और राउटर बनाने वाली कंपनी मौजूद थी।

ये भी पढ़ें..मुंडका अग्निकांड : नहीं रूक रहा शवों के मिलने का सिलसिला, लाशों को पहचानना मुश्किल

वरिष्ठ पुलिस अधिकारी ने बताया कि कंपनी के मालिकों को गिरफ्तार कर लिया गया है। इनकी पहचान हरीश गोयल और वरुण गोयल के रूप में हुई है। आगे की जांच जारी हैं। इस बीच, टॉप फ्लोर पर रहने वाले बिल्डिंग के मालिक मनीष लाकड़ा फरार बताया जा रहा है। पुलिस यह जानने में जुटी है, कि घटना के वक्त वह इमारत में मौजूद था या नहीं। फिलहाल, पुलिस बिल्डिंग ऑनर की तलाश में जुट गई है। ताजा रिपोर्टों के अनुसार, एनडीआरएफ टीम का सर्च ऑपरेशन अभी भी जारी हैं।

कैसे जानलेवा बन गया मुंडका अग्निकांड

मुंडका (Mundka fire) में मेट्रो स्टेशन के पास बनी 3 मंजिला इमारत एक कॉमर्शियल बिल्डिंग है। यह बिल्डिंग अलग-अलग कंपनियों को किराए पर दी गई है। जब यह बिल्डिंग आग की चपेट में आई तब इमारत में करीब 150 लोग काम कर रहे थे। शुक्रवार शाम करीब 4 बजकर 45 मिनट पर अचानक पहली मंजिल आग की चपेट में आ गई। जान बचाने के लिए लोग इधर-उधर भागने लगे। बिल्डिंग में चीख-पुकार मची लेकिन भीषण आग की वजह से लोग बाहर नहीं निकल पाए। कई लोग इस हादसे में राख हो गए।

(अन्य खबरों के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें व हमारे यूट्यूब चैनल को भी सब्सक्राइब करें…)