नए साल का जश्न मनाने Himachal पहुंचे लाखों पर्यटक, रिज मैदान में रही भीड़

0
3

शिमला (Himachal Pradesh): कल देर रात हिमाचल प्रदेश की वादियों में लाखों पर्यटकों ने नए साल का जश्न मनाया। नए साल के जश्न को यादगार बनाने के लिए रविवार को प्रदेश के पर्यटन स्थलों पर लाखों पर्यटक पहुंचे। देर शाम तक शिमला के रिज मैदान, माल रोड, मनाली और धर्मशाला में तिल धरने के लिए जगह नहीं थी। होटल भी पर्यटकों से पैक रहे।

कड़ाके की ठंड के बीच पर्यटक शाम से लेकर देर रात तक मौज-मस्ती करते नजर आए। शाम को होटलों में गीत-संगीत और प्रतियोगिताएं हुईं। रात 12 बजे भी शिमला के रिज मैदान पर पर्यटक जुटे रहे। शिमला विंटर कार्निवाल में आयोजित सांस्कृतिक कार्यक्रमों का पर्यटकों ने जमकर आनंद उठाया। पर्यटकों ने डीजे और ढोल की थाप पर डांस कर नए साल के जश्न को यादगार बनाया।

5 लाख पर्यटकों ने हिमाचल में मनाया जश्न

एक अनुमान के मुताबिक, नए साल का जश्न मनाने के लिए करीब पांच लाख पर्यटक हिमाचल आए। शिमला शहर में दिनभर जाम की स्थिति रही। हजारों नये पर्यटक वाहन शहर में आये। पुलिस के मुताबिक, रविवार देर शाम तक करीब 15 हजार वाहन शिमला शहर में दाखिल हुए। बर्फ की तलाश में पर्यटकों ने लाहौल-स्पीति और सिसु का रुख किया। अटल टनल रोहतांग से करीब 12 हजार वाहन आर-पार हुए। सोमवार और मंगलवार के लिए भी शिमला और मनाली के होटलों में 80 से 100 फीसदी तक एडवांस बुकिंग है। पर्यटकों की आमद बढ़ने से पर्यटन कारोबार में भी तेजी आई है।

यह भी पढ़ें-Himachal Pradesh: कुल्लू पहुंचे सीएम सुक्खू, दो सड़कों का किया शिलान्यास

मौसम की बेरुखी ने किया निराश 

इस बार हिमाचल घूमने आए पर्यटकों को पुलिस की सख्ती का सामना नहीं करना पड़ा। राज्य सरकार के निर्देश पर पुलिस ने नशे में धुत पर्यटकों पर सख्त कार्रवाई करने के बजाय उन्हें अपने होटल में पहुंचा दिया। इस बीच इस बार भी हिमाचल प्रदेश में मौसम की बेरुखी ने पर्यटकों को निराश किया। पर्यटकों की व्हाइट न्यू ईयर मनाने की चाहत पूरी नहीं हो पाई। शिमला, मनाली और कुफरी में अक्सर दिसंबर के महीने में बर्फबारी होती है। लेकिन, इस बार पर्यटकों को बर्फबारी देखने को नहीं मिली है।

आकर्षक ढंग से सजाए गए शक्तिपीठ

नए साल की शानदार शुरुआत के लिए बड़ी संख्या में लोग पर्यटक स्थलों पर पहुंचे हैं। ऐसे हजारों लोग हैं जो अपने दिन की शुरुआत शक्तिपीठों पर मत्था टेककर करते हैं। नये साल के मौके पर राज्य के शक्तिपीठों को आकर्षक ढंग से सजाया गया है। ज्वाला जी, बृजेश्वरी, बगलामुखी, चामुंडा, श्री नैना देवी जी और बाबा बालक नाथ मंदिर दियोटसिद्ध में भक्तों के लिए विशेष व्यवस्था की गई है। विभिन्न शक्तिपीठों के कपाट सोमवार सुबह ही भक्तों के दर्शन के लिए खोल दिये गये।

(अन्य खबरों के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर(X) पर फॉलो करें व हमारे यूट्यूब चैनल को भी सब्सक्राइब करें)