के. कविता की ईडी हिरासत बढ़ी, दिल्ली एक्साइज घोटाले में 100 करोड़ गबन का मामला

0
2

K Kavita ED Custody Extend: दिल्ली की राऊज एवेन्यू कोर्ट ने दिल्ली एक्साइज घोटाला मामले में तेलंगाना के पूर्व मुख्यमंत्री केसीआर की बेटी के. कविता की ईडी हिरासत तीन दिन के लिए बढ़ा दी गई है। विशेष न्यायाधीश कावेरी बावेजा ने यह आदेश दिया। आज सुनवाई के दौरान ईडी की ओर से पेश वकील जोहेब हुसैन ने कविता की हिरासत पांच दिन बढ़ाने की मांग की। उन्होंने कहा कि चार लोगों के बयान दर्ज किये गये हैं। कविता ने 100 करोड़ रुपये का गबन किया।

कविता के मोबाइल डेटा की जांच की गई और फोरेंसिक रिपोर्ट से उसका मिलान किया गया, जिसमें पता चला कि कविता ने जांच के दौरान डेटा डिलीट कर दिया था। हुसैन ने कहा कि कविता के परिवार ने कोई जानकारी नहीं दी। कविता के भतीजे के यहां छापेमारी की जा रही है। उन्होंने अपने भतीजे के बारे में जानकारी हासिल करने के लिए समीर महेंद्रू से पूछताछ करने की इजाजत कोर्ट से मांगी है।

छापेमारी के बाद हुई थी गिरफ्तारी

पेशी के दौरान कविता की ओर से वकील नीतीश राणा ने पूछा कि ईडी की हिरासत में कविता से दस्तावेज कैसे हासिल किये जायेंगे। इसके लिए जमानत देनी होगी। हमने पहली पेशी के दौरान दलीलें दी थीं। इसके बाद हुसैन ने कहा कि उन दलीलों को खारिज कर दिया गया है। जमानत दाखिल करने में न्यायिक हिरासत या ईडी हिरासत कोई मायने नहीं रखती। उन्होंने जमानत याचिका दायर की जिस पर ईडी अपना जवाब दाखिल करेगी। 16 मार्च को कोर्ट ने कविता को 23 मार्च तक ईडी की हिरासत में भेजने का आदेश दिया था। कविता को 15 मार्च को हैदराबाद में छापेमारी के बाद गिरफ्तार किया गया था।

यह भी पढ़ें-पंजाब में जहरीली शराब का कहर, अब तक 18 लोगों की मौत, जांच के लिए SIT गठित

कैसे पहुंचा मुनाफा ईडी ने बताया

इस मामले में, सीबीआई ने कविता के सीए बुचिबाबू गोरंटला को 8 फरवरी 2023 को गिरफ्तार किया था। बुचीबाबू को शराब नीति के निर्माण और कार्यान्वयन में उनकी कथित भूमिका और हैदराबाद स्थित थोक और खुदरा लाइसेंसधारियों को गलत लाभ प्रदान करने के लिए गिरफ्तार किया गया था।  6 मार्च 2023 को बुचीबाबू को सीबीआई मामले में जमानत मिल गई।

ईडी के मुताबिक 33 फीसदी मुनाफा इंडोस्पिरिट्स के जरिए कविता तक पहुंचा। कविता शराब कारोबारियों की लॉबी साउथ ग्रुप से जुड़ी थीं। ईडी ने कविता को पूछताछ के लिए दो बार समन भेजा था, लेकिन कविता ने इसे नजरअंदाज कर दिया और पेश नहीं हुईं जिसके बाद छापेमारी कर उन्हें गिरफ्तार कर लिया गया।

(अन्य खबरों के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर(X) पर फॉलो करें व हमारे यूट्यूब चैनल को भी सब्सक्राइब करें)