हज उड़ानों पर लगी रोक हटाने के संकेत, केंद्र सरकार कर रही ये काम

नई दिल्लीः केंद्र सरकार ने कोरोना महामारी के समय से देश के 9 शहरों से सीधी हज उड़ानों पर लगी रोक हटाने के संकेत दिए हैं। भारत सरकार के अंडर सेक्रेटरी शुभेंदु श्रीवास्तव ने हज सेवादार हाफिज नौशाद आजमी को एक पत्र भेजकर जानकारी दी है कि बंद किए गए इंबारकेशन प्वाइंट से सीधी उड़ानें शुरू किए जाने की मांग पर केंद्र सरकार विचार कर रही है।

कोरोना वायरस की वजह से भारत से 2 वर्ष तक हज यात्रा के लिए कोई भी हज यात्री सऊदी अरब नहीं गया था। फिर जब 2022 में सीमित संख्या में हज यात्रा हुई, तब भी भारत सरकार ने 9 शहरों से सीधी हज उड़ानों पर रोक को बरकरार रखा था। यह शहर वाराणसी, गया, रांची, जयपुर, भोपाल, चेन्नई, कालीकट, नागपुर और औरंगाबाद हैं। पिछले दिनों दिल्ली में आयोजित होने वाली हज कॉन्फ्रेंस में भी यह मुद्दा उठाया गया। केंद्रीय अल्पसंख्यक मंत्री स्मृति ईरानी ने यह साफ किया था कि हज यात्रियों को उनके घर के करीब से सीधी उड़ान की सुविधा देने पर विचार किया जाना चाहिए।

इस सम्बंध में हज सेवादार हाफिज नौशाद आजमी ने केन्द्रीय अल्पसंख्यक मंत्री स्मृति ईरानी और अन्य को पत्र भेजकर बंद किए गए इंबारकेशन प्वाइंट को दोबारा से शुरू किए जाने की मांग की थी। उनकी मांग पर केंद्र सरकार के विचार किए जाने पर उन्होंने कहा है कि इससे हज यात्रियों को काफी आसानी होगी। उन्होंने केंद्र सरकार से हज यात्रा 2023 में ही इस सुविधा का लाभ हज यात्रियों को दिए जाने की मांग की है। उन्होंने कहा कि हज यात्रा 2023 के लिए आवेदन फार्म अगले महीने से उपलब्ध कराए जाने वाले हैं। इससे पूर्व बंद किए गए इंबारकेशन प्वाइंट को दोबारा से शुरू किए जाने का ऐलान किया जाना चाहिए।

अन्य खबरों के लिए हमें फेसबुक औरट्विटरपर फॉलो करें व हमारे यूट्यूब चैनल को भी सब्सक्राइब करें…