अनोखी बारातः शादी को यादगार बनाने के लिए बुलडोजर पर बैठकर मंडप तक पहुंचा दूल्हा

बैतूल: हर आम और खास व्यक्ति अपनी शादी को ऐसी यादगार बनाना चाहता है कि लोग उसकी चर्चा करें। इसी के चलते जहां दुल्हन घोड़ी और ट्रैक्टर चलाते हुए मंडप में पहुंच रही हैं तो वहीं एक सिविल इंजीनियर दूल्हे ने बिल्कुल नया करते हुए बुलडोजर (bulldozer) के बकेट पर बैठकर ही अपनी बारात निकाल ली।

ये भी पढ़ें..कंबोडिया में मिली दुनिया की सबसे बड़ी साफ पानी की मछली, वजन और आकार…

बुलडोजर (bulldozer) पर बैठे दुल्हे की खबर सोशल मीडिया के व्हाट्सएप, फेसबुक, ट्वीटर, इंस्टग्राम सहित अन्य प्लेटफार्मों पर खूब वायरल हो रही है। जिले भर में यह शादी चर्चा का विषय बनी है। मध्यप्रदेश के आदिवासी बहुल बैतूल जिले के भैंसदेही विकासखंड के अंतर्गत आने वाले ग्राम झल्लार में सिविल इंजीनियर अंकुश जायसवाल की अनोखे अंजाज में निकली बारात चर्चा का विषय बनी हुई है।

अंकुश जायसवाल ने वह पेशे से सिविल इंजीनियर है और बुलडोजर (bulldozer), सहित अन्य निर्माण कार्यों से जुड़ी मशीनों के साथ दिन भर वह कामकाज करते रहते हैं। इसलिए उनके मन में यह विचार आया था कि वह अपने पेशे से जुड़ी मशनरी का ही अपने विवाह में उपयोग करें। इसी के चलते उन्होंने अपनी शादी को यादगार बनाने के लिए बुलडोजर (bulldozer) पर मंगलवार रात को अपनी बारात निकाली। झल्लार से बारात निकलने के बाद केरपानी स्थित प्रसिद्ध श्री हनुमान मंदिर में रात्रि विश्राम किया। बुधवार को झल्लार निवासी अंकुश जायसवाल का विवाह केसर बाग में धूमधाम के साथ संपन्न हुआ।

(अन्य खबरों के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें व हमारे यूट्यूब चैनल को भी सब्सक्राइब करें)