उत्तर प्रदेश

यूपी में बदला मौसम का मिजाज, झांसी में गिरे ओले, बारिश से फसलें हुई बर्बाद

Weather changed in UP hail fell
UP Weather: सप्ताह के मंगलवार की शुरुआत किसानों के लिए अशुभ रही। सुबह से ही ग्रामीण इलाकों में आंधी, बिजली और तेज बारिश के साथ ओलावृष्टि की खबर ने किसानों के माथे पर चिंता की लकीरें खींच दी हैं। डरे हुए किसान अपनी फसलों की रक्षा के लिए इंद्रदेव से प्रार्थना करते नजर आए तो कहीं ओलावृष्टि से बचने के लिए टोटके भी किए गए। जिले के दो दर्जन से अधिक गांवों में ओलावृष्टि और भारी बारिश से फसल खराब होने की खबरें लगातार आ रही हैं। भारतीय कृषि को किसानों के लिए मौसम का जुआ कहा जाता है। किसानों को फसल बोने से लेकर उपज लेकर सुरक्षित घर पहुंचने तक मौसम पर निर्भर रहना पड़ता है। प्राकृतिक आपदाओं के कारण किसानों का बुरा हाल रहता है। कभी सूखा, कभी अतिवृष्टि तो कभी ओलावृष्टि किसानों को परेशान रखती है। मंगलवार की सुबह से हो रही तेज बारिश और ओलावृष्टि ने किसानों को परेशानी में डाल दिया है। किसान डरे हुए हैं। किसानों को खेतों में फसल बर्बाद होने की चिंता सता रही है। इसके अलावा बारिश की ठंडी बूंदों ने एक बार फिर ठंड का एहसास करा दिया है और लोग ठंड से बचने के लिए अपने घरों में छुपकर बैठे हैं। झाँसी के मऊरानीपुर तहसील क्षेत्र के ग्रामीण इलाकों में सुबह से ही भारी बारिश जारी है। यह भी पढ़ें-Shri Mahakaleshwar Temple: महाकाल का पंचामृत पूजन के बाद हुआ भांग से दिव्य श्रृंगार झांसी में सुबह-सुबह हुई तेज बारिश और ओलावृष्टि ने किसानों की परेशानी बढ़ा दी है। ओलावृष्टि से खेतों में खड़ी किसानों की फसल बर्बाद होने का खतरा है। झाँसी जिले के बबीना के लहार ठकरपुरा में बारिश के साथ ओलावृष्टि से किसानों की फसलें खेतों में बर्बाद होने की कगार पर हैं। मंगलवार सुबह से हो रही बारिश के कारण झांसी के बबीना और मोठ के अलावा मऊरानीपुर तहसील क्षेत्र के ग्रामीण इलाकों में तेज बारिश और ओलावृष्टि हुई। ग्राम तिलेरा में आकाशीय बिजली गिरने से एक भैंस की मौत हो गई। मऊरानीपुर तहसील क्षेत्र के तुदायन खिरक कटेरा में ओलावृष्टि का वीडियो सामने आया है, जिसमें ओलावृष्टि से किसानों की फसलें बर्बाद हो गईं। इलाके के किसानों ने जिला प्रशासन समेत उत्तर प्रदेश सरकार से मदद की गुहार लगाई है।

इन गांवों में ओलावृष्टि 

झांसी में मोंठ क्षेत्र के लहर ठाकरपुरा, किचलवारा, खजराहा, मुनकपुरा, चेलरा, नंदपुरा, सीना, जौरा, सिमरिया, लड़वारा और पूंछ क्षेत्र के धौरका, सिकंदरा, बाबई, बड़ौदा समेत 25 से ज्यादा गांवों में ओलावृष्टि हुई।

फसलों और सब्जियों को नुकसान

झांसी में तेज हवाओं के साथ ओलावृष्टि और बारिश से गेहूं की फसल बर्बाद हो गई। मटर, चना और मसूर को भी नुकसान हुआ है। भरारी कृषि विज्ञान केंद्र, झांसी के वैज्ञानिक डॉ। आदित्य कुमार सिंह ने बताया कि बारिश और ओलावृष्टि से खेतों में खड़ी फसलों को नुकसान हो रहा है।

इन जिलों में आज बारिश का अलर्ट

मौसम विभाग के मुताबिक, ललितपुर, जालौन, महोबा, हमीरपुर, फतेहपुर, बांदा, चित्रकूट, कानपुर, कौशांबी, प्रतापगढ़, जौनपुर, प्रयागराज, झाँसी, मिर्ज़ापुर, वाराणसी, चंदौली, सोनभद्र और ग़ाज़ीपुर में बारिश की संभावना है। (अन्य खबरों के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर(X) पर फॉलो करें व हमारे यूट्यूब चैनल को भी सब्सक्राइब करें)