Uttarkashi Tunnel Accident: केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी ने घटना स्थल का लिया जायजा, कही ये बात

Uttarkashi-Tunnel-Accident

Uttarkashi-Tunnel-Accident

Uttarkashi Tunnel Accident: उत्तरकाशी के सिल्क्यारा सुरंग हादसे का आज आठवां दिन है। 41 लोगों की जिंदगी अब भी सुरंग में कैद है। इस बीच बचाव कार्यों का जायजा लेने के लिए केंद्रीय सड़क एवं परिवहन मंत्री नितिन गडकरी रविवार सुबह उत्तरकाशी पहुंचे। उन्होंने सिल्कयारा टनल में चल रहे राहत एवं बचाव कार्य का स्थलीय निरीक्षण किया। साथ ही पूरे मामले की समीक्षा की। उनके साथ सीएम पुष्कर सिंह धामी और मुख्य सचिव एसएस संधू भी मौजूद रहे।

दो से ढाई दिन और लग सकतें हैं

नितिन गडकरी ने कहा कि पिछले 7-8 दिनों से हम मजदूरों को बचाने के लिए हर संभव प्रयास कर रहे हैं। सरकार की विभिन्न एजेंसियां यहां काम कर रही हैं। हमारी प्राथमिकता फंसे हुए पीड़ितों को भोजन, दवा और ऑक्सीजन उपलब्ध कराना है।’ अगर बरमा मशीन ठीक से काम करेगी तो हम अगले दो से ढाई दिन में मजदूरों तक पहुंच सकेंगे। इससे पहले केंद्रीय राज्य मंत्री वीके सिंह और पीएमओ की टीम ने भी निरीक्षण किया था। माना जा रहा है कि सुरंग में फंसे मजदूरों को निकालने में चार से पांच दिन और लग सकते हैं। अब छह टीमों की मदद से अभियान शुरू किया गया है।

ये भी पढ़ें..Chhattisgarh: बस्तर में दियारी पर्व मनाने का सिलसिला शुरू, मवेशियों की होती है पूजा

वहीं, सिल्क्यारा टनल हादसे को देखते हुए चिन्यालीसौड़ एयरपोर्ट पर सेना की एक कंपनी तैनात करने की तैयारी की जा रही है। यह जानकारी सिल्कयारा टनल हादसे में राहत और बचाव कार्य की कमान संभाल रहे कर्नल दीपक पाटिल ने दी है। सिल्क्यारा सुरंग के ऊपर ड्रिलिंग के लिए एक अस्थायी मार्ग तैयार किया गया है। एक मशीन ऊपर तक पहुंच गई है। मजदूरों को बचाने के लिए सुरंग के ऊपर और दाहिनी ओर से ड्रिलिंग की जाएगी।

(अन्य खबरों के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें व हमारे यूट्यूब चैनल को भी सब्सक्राइब करें)