सोमालिया के आतंकी समूह ‘अल-शबाब’ से निपटेगी अमेरिकी फौज, राष्ट्रपति बाइडेन ने दी मंजूरी

biden

वाशिंगटनः अमेरिका ने सोमालिया के आतंकवादी समूह ‘अल-शबाब’ के बढ़ते खतरे से निपटने के लिए नए सिरे से सैन्य अभियान को मंजूरी दी है। एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि राष्ट्रपति जो बाइडेन ने रक्षा विभाग के अनुरोध पर सोमालिया में छोटी अमेरिकी सैन्य उपस्थिति को फिर से स्थापित करने को मंजूरी दी है। उन्होंने कहा कि अमेरिकी सेना स्थानीय सैनिकों को प्रशिक्षण देगी।

खुफिया जानकारी होने पर अभियान चलाएगी और प्रत्यक्ष आतंकवाद विरोधी कार्रवाई करेगी। उन्होंने कहा कि अमेरिका को इस बात के साक्ष्य मिले है कि अल-शबाब सोमालिया में अमेरिकी नागरिकों को निशाना बनाने का प्रयास कर रहा है। उन्होंने कहा कि इस सैन्य अभियान में कम से कम 500 अमेरिकी सुरक्षाकर्मी शामिल होंगे। फिलहाल अमेरिका की वहां स्थायी सैन्य उपस्थिति बनाये जाने की कोई योजना नहीं हैं।

ये भी पढ़ें..सूर्यकुमार यादव IPL से बाहर, मुंबई इंडियंस ने इस युवा खिलाड़ी…

उल्लेखनीय है कि ‘अल-शबाब’ को अल कायदा से भी खूंखार आतंकी संगठन माना जाता है। सोमालिया के इस आतंकी संगठन को फिलहाल न सिर्फ अफ्रीका महाद्वीप बल्कि समूची दुनिया में दहशत का पर्याय माना जाने लगा है। ‘अल-शबाब’ का जन्म 2006 में इस्लामिक कोर्ट यूनियन की कट्टरपंथी युवा शाखा के रूप में हुआ था। अमेरिका ने 2015 में ‘अल-शबाब’ के दो नेताओं अहमद दिरीय और ‘अल-शबाब’ खुफिया विभाग के महद काराते को काली सूची में शामिल किया था।

(अन्य खबरों के लिए हमें फेसबुक औरट्विटरपर फॉलो करें व हमारे यूट्यूब चैनल को भी सब्सक्राइब करें…