प्रदेश उत्तर प्रदेश Featured बिजनेस

UP Budget 2024: स्वास्थ्य को लेकर सतर्क योगी सरकार, हेल्थ लैब के लिए 952 करोड़ प्रस्तावित

up Budget 2024
UP Budget 2024: उत्तर प्रदेश विधान मंडल बजट सत्र के दौरान सोमवार को विधानसभा में प्रस्तुत बजट में चिकित्सा स्वास्थ्य पर खासा ध्यान दिया गया है। राष्ट्रीय ग्रामीण स्वास्थ्य मिशन के अन्तर्गत विभिन्न कार्यक्रमों के संचालन के लिए वित्तीय वर्ष 2024-2025 में 7350 करोड़ रूपये की व्यवस्था प्रस्तावित है। इसी तरह प्रधानमंत्री आयुष्मान भारत हेल्थ इन्फ्रास्ट्रक्चर मिशन योजना के अन्तर्गत प्रदेश में ग्रामीण एवं शहरी क्षेत्र में हेल्थ वेलनेस सेन्टर केयर यूनिट, इन्टीग्रेटेड पब्लिक हेल्थ लैब की स्थापना आदि कार्यों के लिए 952 करोड़ रूपये की व्यवस्था प्रस्तावित है। आयुष्मान भारत मुख्यमंत्री जन आरोग्य अभियान के लिए वित्तीय वर्ष 2024-2025 में 300 करोड़ रूपये की व्यवस्था प्रस्तावित है।

प्रधानमंत्री मातृ वंदना योजना के लिए 322 करोड़ प्रस्तावित

वहीं प्रधानमंत्री मातृ वंदना योजना के लिए वित्तीय वर्ष 2024-2025 में 322 करोड़ रुपये की बजट व्यवस्था प्रस्तावित है। पं0 दीनदयाल उपाध्याय राज्य कर्मचारी कैशलेस चिकित्सा योजना के अन्तर्गत आबद्ध निजी चिकित्सालयों में कैशलेस उपचार की व्यवस्था की गयी है, जिस पर कुल 150 करोड़ रूपये का व्यय भार अनुमानित है, जिसका पूर्ण वहन राज्य सरकार द्वारा किया जा रहा है।

असाध्य रोगों की मुफ्त चिकित्सा सुविधा

चिकित्सा शिक्षा के तहत 16 असेवित जनपदों में निजी निवेश के माध्यम से मेडिकल काॅलेज स्थापित किया जाना प्रस्तावित है। राजकीय क्षेत्र में बीएससी नर्सिग काॅलेजों की संख्या 06 से बढ़ाकर 23 की गयी। जनपद वाराणसी में मेडिकल काॅलेज की स्थापना कराये जाने का निर्णय लिया गया है इसके लिये 400 करोड़ रूपये की व्यवस्था प्रस्तावित है। असाध्य रोगों की मुफ्त चिकित्सा सुविधा के लिए 125 करोड़ रूपये की व्यवस्था प्रस्तावित है। Jharkhand: पूर्व मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन की गिरफ्तारी के मामले में हाईकोर्ट ने ईडी से मांगा जवाब राजकीय मेडिकल काॅलेजों में ट्रॉमा सेन्टर लेवल-द्वितीय को ट्रामा सेन्टर लेवल-एक (100 बेडेड)/ एपेक्स ट्रामा सेन्टर (200 बेडेड) में उच्चीकृत किये जाने के लिए 300 करोड़ रूपये की व्यवस्था प्रस्तावित है। आयुष्मान भारत कार्यक्रम के अन्तर्गत प्रदेश में 1035 राजकीय आयुर्वेदिक होम्योपैथी एवं यूनानी चिकित्सालयों को हेल्थ वेलनेस सेन्टर्स में परिवर्तित किया जा रहा है। वित्तीय वर्ष 2024-2025 में अयोध्या में राजकीय आयुर्वेदिक महाविद्यालय एवं जनपद वाराणसी में राजकीय होम्योपैथिक मेडिकल कालेज की स्थापना किये जाने का लक्ष्य है। वित्त मंत्री सुरेश खन्ना ने बताया कि राजकीय आयुष महाविद्यालयों एवं चिकित्सालयों में औषधियों की समुचित व्यवस्था तथा 50 बेडेड एकीकृत आयुष चिकित्सालय 11 जनपदों में स्थापित है तथा 6 जनपदों में भवन निर्माण पूर्ण हो चुका है। (अन्य खबरों के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें व हमारे यूट्यूब चैनल को भी सब्सक्राइब करें)