उत्तर प्रदेश Featured टॉप न्यूज़

UP Budget 2024 : योगी सरकार ने हिंदू धर्मस्थलों के लिए खोला खजाना, महाकुंभ को मिले 2500 करोड़

up-budget-2024
UP Budget 2024, लखनऊः उत्तर प्रदेश के योगी सरकार में वित्त मंत्री सुरेश खन्ना ने सोमवार को विधानसभा में वित्तीय वर्ष 2024-25 के लिए भारी भरकम बजट पेश किया। सुरेश खन्ना सीएम योगी आदित्यनाथ की मौजूदगी में 7,36,437 करोड़ का बजट पेश किया। जिसमें 24 हजार करोड़ रुपए की नई योजनाएं शामिल है। यह यूपी के इतिहास का अब तक का सबसे बड़ा बजट है। विपक्षी बार यह 6.90 लाख करोड़ रुपये था। इस बजट में योगी सरकार ने धर्मस्थलों, संस्कृति व पर्यटन स्थलों के लिए भी खजाना खोल दिया है।

धार्मिक स्थलों के लिए 5,000 करोड़ रुपये आवंटित

दरअसल लोकसभा चुनाव को देखते हुए उत्तर प्रदेश की योगी आदित्यनाथ सरकार ने एक बार फिर धर्म-कर्म के लिए अपना खजाना खोल दिया है। सोमवार को पेश किए गए यूपी बजट 2024 में सरकार ने धार्मिक स्थलों और संबंधित बुनियादी ढांचे के विकास के लिए 5,000 करोड़ रुपये से अधिक का आवंटन किया है। बजट में यूपी सरकार ने अयोध्या को चमकाने के साथ प्रयागराज में होने वाले महाकुंभ 2025 पर भी फोकस किया है। इस बजट में महाकुंभ के लिए 2500 करोड़ रुपये का प्रावधान किया गया है। इसके अलावा यूपी में धार्मिक स्थलों तक जाने वाली सड़कों के विकास के लिए 1750 करोड़ रुपये का प्रावधान किया गया है। यूपी सरकार पहले से ही मिर्ज़ापुर में विंध्याचल मां विंध्यवासिनी मंदिर कॉरिडोर विकसित कर रही है। बजट में इस प्रोजेक्ट के लिए धनराशि मंजूर कर दी गई है। ये भी पढ़ें..UP Budget 2024: योगी सरकार ने दी 24 हजार करोड़ की नई परियोजनाओं की सौगात, जानें बजट की मुख्य बातें

UP Budget 2024- 150 करोड़ से होगा अयोध्या एयरपोर्ट का विकास 

वहीं योगी सरकार एक बार फिर अयोध्या पर मेहरबान हुई है। बजट 2024-25 में अयोध्या एयरपोर्ट के विकास के लिए 150 करोड़ रुपये और रामलला की नगरी के लिए 100 करोड़ रुपये का प्रावधान किया गया है। इतना ही नहीं अयोध्या में अंतरराष्ट्रीय रामायण एवं वैदिक शोध संस्थान के लिए भी 10 करोड़ रुपये अलग से खर्च किये जायेंगे। इसके अलावा बजट चित्रकूट के महर्षि वाल्मीकि सांस्कृतिक केंद्र की स्थापना के लिए 10.53 करोड़ रुपये की व्यवस्था प्रस्तावित है। आजमगढ़ के हरिहरपुर में संगीत महाविद्यालय की स्थापना हेतु 11.79 करोड़ रुपये खर्च किए जाएंगे।वहीं लखनऊ, विन्ध्याचल, प्रयागराज, नैमिषारण्य, अयोध्या, वाराणसी, चित्रकूट, गोरखपुर, मथुरा, बटेश्वर धाम, गढ़मुक्तेश्वर, शुकतीर्थ धाम, सारनाथ, माँ शाकुम्भरी देवी सहित महत्वपूर्ण पर्यटन स्थलों का पर्यटन विकास एवं सौन्दर्यीकरण किया जाएगा। गौरतलब है कि वित्त मंत्री सुरेश खन्ना बजट पेश करते हुए कहा कि यूपी के मुख्यमंत्री योगी के नेतृत्व में कानून व्यवस्था का राज कायम हुआ है। लखनऊ में दिल्ली की तर्ज पर सिटी विकसित की जाएगी। हमने प्रधानमंत्री जी के ‘सबका साथ-सबका विकास‘ नारे को चरितार्थ किया है। (अन्य खबरों के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर(X) पर फॉलो करें व हमारे यूट्यूब चैनल को भी सब्सक्राइब करें)