सशक्त भारत के लिए महिला सशक्तिकरण जरुरी- स्वाती सिंह

Swati-Foundation

बाराबंकीः यूपी के बाराबंकी में पीएम श्री राजकीय बालिका इंटर कॉलेज में शनिवार को स्वाति फाउंडेशन द्वारा बालिका स्वास्थ्य एवं माहवारी सुरक्षा पर जागरूकता कार्यक्रम का आयोजन किया गया। इस दौरान पूर्व मंत्री स्वाति सिंह (Swati Singh) ने कहा कि लड़कियों में साफ-सफाई को नजरअंदाज करना उनकी सेहत पर भारी पड़ सकता है। खासकर मासिक धर्म के दौरान संक्रमण जानलेवा साबित हो सकता है।

स्वाति सिंह ने महिलाओं को किया जागरुक

स्वाति सिंह ने कहा महिलाओं के सशक्तिकरण के बिना भारत को सशक्त और सक्षम नहीं बनाया जा सकता। इसलिए केंद्र और राज्य सरकार आधी आबादी की सुरक्षा, स्वावलंबन और सम्मान के लिए पूरी प्रतिबद्धता से काम कर रही है। नारी शक्ति वंदन अधिनियम के माध्यम से इसे संभव बनाने के लिए कदम उठाए गए हैं।

ये भी पढ़ें..Tamil Nadu: सिंधु बनी राज्य की पहली ट्रांसजेंडर रेलवे टिकट निरीक्षक

उन्होंने छात्राओं को जागरूक करते हुए कहा कि मासिक धर्म आने पर इसे छुपाने और शर्मिंदगी महसूस करने की बजाय परिवार में खुलकर बात करनी चाहिए। सेनेटरी पैड का प्रयोग अवश्य करें। इस दौरान बरती गई लापरवाही सर्वाइकल कैंसर जैसी कई गंभीर बीमारियों का कारण बन सकती है।

सर्वाइकल कैंसर का भी किया जिक्र

सर्वाइकल कैंसर से बचाव के लिए देशभर में 9-14 साल की लड़कियों को मुफ्त एचपीवी वैक्सीन लगाई जाएगी। उन्होंने स्कूल प्रबंधन से अपील की कि वे छात्राओं के अभिभावकों को मासिक धर्म के संबंध में काउंसिलिंग के लिए बुलाएं, ताकि हर छात्रा शर्मिंदा होने के बजाय सम्मान की जिंदगी जी सके।

स्वाति सिंह ने आधी आबादी के सशक्तिकरण का प्रतीक बन चुकी कल्पना चावला, किरण बेदी आदि का जिक्र करते हुए छात्राओं से उनके बताए रास्ते पर चलने की अपील की और कहा कि शिक्षा इस ओर पहला कदम है। इस दौरान सेनेटरी पैड वितरित किये गये। कार्यक्रम में प्रधानाचार्या नंदिता सिंह,मंजू श्रीवास्तव, मीरा बाला सिंह, कुसुम मिश्रा, पुनिता सिंह,दीपशिखा त्रिपाठी आदि महिला शिक्षक शामिल रहीं।

(अन्य खबरों के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर(X) पर फॉलो करें व हमारे यूट्यूब चैनल को भी सब्सक्राइब करें)