Monday, June 17, 2024
spot_img
HomeराजनीतिRajasthan Elections 2023: टिकट कटने से नाराज भाजपा नेताओं को मनाने में...

Rajasthan Elections 2023: टिकट कटने से नाराज भाजपा नेताओं को मनाने में जुटी पार्टी

Rajasthan Elections 2023

Rajasthan Elections 2023- जयपुरः राजस्थान में 25 नवंबर को होने वाले विधानसभा चुनाव के लिए उम्मीदवारों की पहली सूची में नाम न होने से नाराज नेताओं को मनाने की बीजेपी में कोशिशें जारी हैं। टिकट बंटवारे को लेकर उपजे सियासी विवाद को खत्म करने के लिए पार्टी के शीर्ष नेताओं ने मोर्चा संभाल लिया है। इन्हीं प्रयासों के तहत गुरुवार को केंद्रीय मंत्री गजेंद्र सिंह शेखावत अजमेर, प्रदेश सह प्रभारी विजया रहाटकर सांचौर में थी जबकि संगठन महासचिव चंद्रशेखर झुंझुनूं में थे।

इसके अलावा उपनेता प्रतिपक्ष सतीश पूनिया ने श्रीगंगानगर और पार्टी प्रभारी अरुण सिंह ने जयपुर में ‘नाराज’ नेताओं से बात की। आज पार्टी के वरिष्ठ नेता बैठक कर चुनाव को लेकर अहम मुद्दों पर चर्चा करेंगे। हाल ही में अरुण सिंह ने दो बार के सीएम और पूर्व उपराष्ट्रपति भैरों सिंह शेखावत के दामाद पूर्व विधायक नरपत सिंह राजवी के साथ बैठक की, ताकि उन्हें समझाया जा सके कि उनकी चिंताओं को आलाकमान तक पहुंचाया जाएगा और समाधान किया जाएगा।

ये भी पढ़ें..69000 शिक्षक भर्ती: दर-दर भटक रहे अभ्यर्थियों का आंदोलन हुआ तेज, लखनऊ में जोरदार प्रदर्शन

राज्य में चौतरफा हो रहा बीजेपी की पहली सूची का विरोध

गौरतलब है कि बीजेपी की ओर से जारी की गई पहली लिस्ट के बाद राज्यभर में चौतरफा विरोध शुरू हो गया है। सूत्रों के मुताबिक, बीजेपी चुनाव में कांग्रेस के खिलाफ लड़ रही है, लेकिन जिस तरह से वसुंधरा राजे के करीबी नेताओं के टिकट काटे गए हैं, उससे पता चलता है कि वह सबसे पुरानी पार्टी होने के साथ-साथ वसुंधरा राजे से शीतयुद्ध भी लड़ रही है। उन्होंने कहा कि सूची से हटाए गए कुछ नामों से आरएसएस भी खुश नहीं है। इस बीच, कथित तौर पर अपने करीबी नेताओं के टिकट कटने के बावजूद वसुंधरा राजे और उनके समर्थक दूसरी सूची का इंतजार कर रहे हैं।

वसुंधरा राजे अनुशासित खिलाड़ी की तरह धैर्य बनाए हुए

हालांकि, वह एक अनुशासित खिलाड़ी की तरह शांति और धैर्य बनाए हुए हैं, लेकिन देखने वाली बात यह होगी कि पिछले साढ़े चार साल से मुख्यधारा में आने का इंतजार कर रहीं वसुंधरा राजे दूसरे चरण के बाद अपना संयम बरकरार रख पाएंगी या नहीं सूची? राजस्थान बीजेपी चुनाव प्रबंधन समिति के संयोजक नारायण पंचारिया ने कहा कि राजे केंद्र में जय प्रकाश नड्डा के बाद बीजेपी की दूसरी सबसे बड़ी नेता हैं। उन्होंने कहा, ”हमारी पार्टी में कोई गुट या खेमा नहीं है।केवल ‘कमल’ ही हमारी पहचान है।राजे हाल ही में झारखंड में भी ध्वजवाहक थीं और उन्होंने अपना काम बहुत कुशलता से किया।

(अन्य खबरों के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें व हमारे यूट्यूब चैनल को भी सब्सक्राइब करें)

RELATED ARTICLES
- Advertisment -spot_imgspot_img

सम्बंधित खबरें