Punjab Budget: मान सरकार ने स्वास्थ्य और शिक्षा के लिए खोला खजाना, जानें किस क्षेत्र पर रहा सबसे ज्यादा जोर?

punjab-bubget-2023

punjab-bubget-2023

चंडीगढ़ः पंजाब में आम आदमी पार्टी की भगवंत मान सरकार ने विधानसभा सत्र के चौथे दिन शुक्रवार को अपना पहला पूर्ण बजट पेश किया। वित्त मंत्री हरपाल सिंह चीमा ने बजट पेश करते हुए कहा कि चुनाव के दौरान दी गई गारंटियों और वायदों के साथ बजट में हर वर्ग पर विशेष ध्यान दिया गया है। बजट पेश करते हुए चीमा ने कहा कि वित्तीय वर्ष 2023-24 के लिए पंजाब का बजट 1 लाख 96 हजार 462 करोड़ रुपये का होगा जो पिछले साल से 26 प्रतिशत अधिक है।

वर्ष 2022-23 में पंजाब का कुल बजट 1 लाख 55 हजार 860 करोड़ रुपये था। वित्त मंत्री हरपाल सिंह चीमा ने कहा कि आप सरकार ज्यादातर शिक्षा और स्वास्थ्य क्षेत्रों पर ध्यान दे रही है, लेकिन अन्य क्षेत्रों पर भी उतना ही ध्यान दिया जा रहा है। चीमा ने कहा कि उनकी सरकार को विरासत में भारी कर्ज मिला था, जो पिछली सरकारों ने उठाया था। इसके बावजूद आप सरकार पंजाब को आगे बढ़ाने के लिए वचनबद्ध है।

ये भी पढ़ें..Delhi Liquor Policy: तिहाड़ जेल में रहेंगे सिसोदिया, 21 मार्च तक जमानत याचिका पर सुनवाई टली

बजट में किस क्षेत्र पर रहा सबसे ज्यादा जोर?

वित्त मंत्री ने घोषणा की कि पंजाब में जल्द ही 17 रेत माइनिंग खनन शुरू होंगे। इसके अतिरिक्त सड़क मरम्मत के लिए 1,992 करोड़ रुपये, पंजाब पुलिस को मजबूत करने और सुरक्षा व्यवस्था के लिए 10,523 करोड़ रुपये, अमृतसर में युद्ध स्मारक पर दो नई दीर्घाओं के निर्माण के लिए 15 करोड़ रुपये, राज्य में 11 नए कॉलेजों के निर्माण के लिए 36 करोड़ रुपये तथा मौजूदा सरकारी कॉलेजों में पुस्तकालय निर्माण के लिए 68 करोड़ रुपये, कपूरथला और होशियारपुर में नए मेडिकल कॉलेज खोलने के लिए 17,072 करोड़ रुपये, स्कूलों और उच्च शिक्षा के लिए 17,072 करोड़ रुपये का प्रस्ताव किया गया है।

इसके अतिरिक्त वित्त मंत्री ने स्कूलों में रूफटॉप सोलर सिस्टम के लिए 100 करोड़ रुपये, अगले वित्तीय वर्ष में चिकित्सा शिक्षा के लिए 1,015 करोड़ रुपये, पंजाब में खेलों को बढ़ावा देने के लिए 258 करोड़ रुपये, मानसा जिले में दो तेल मिलें खोलने की घोषणा की। जिले के बुढलाडा एवं मुक्तसर जिले के गिद्दड़बाहा मिलों ने वित्तीय वर्ष 2023-24 में राज्य में पराली प्रबंधन के लिए 350 करोड़ रुपये, तकनीकी शिक्षा से संबंधित संस्थानों के सुधार के लिए 615 करोड़ रुपये, पूंजीगत व्यय के लिए 11,782 करोड़ रुपये खर्च करने का ऐलान किया गया है। इसके अतिरिक्त वित्त मंत्री ने कहा कि आप सरकार ने एक वर्ष में पंजाब के युवाओं को 26 हजार 797 नौकरियां दी हैं।

(अन्य खबरों के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें व हमारे यूट्यूब चैनल को भी सब्सक्राइब करें)