प्रदेश उत्तर प्रदेश Featured

लखनऊः रसोइयों ने मांगा अपना हक, किया प्रदर्शन

protest
Lucknow: प्रदेश की राजधानी लखनऊ में आज कई जिलों से राष्ट्रीय मध्यान्ह भोजन रसोइया फ्रंट के सैकड़ों सदस्यों ने अपनी मांगों को लेकर धरना दिया। सुबह करीब दस बजे यह शहर के इकोगार्डेन पहुंचे और नारेबाजी करने लगे। नारेबाजी करती महिलाओं के हाथ में चिमटा, कलछुल और बेलन दिखाई पड़ रहे थे।

परिवार का गुजारा मुश्किल

महिलाओं का कहना था कि सरकार की ओर से उनको केवल दो हजार रूपये दिए जाते हें। इस मद में उनका परिवार कैसे पाला जाए, जबकि इस नौकरी में अनिश्चितता बनी रहती है। उनको डर रहता है कि कब निकाल दिया जाए। सरकार से गुहार लगा रहे कई सदस्यो ने कहा कि मध्यान्ह भोजन योजना के अंतर्गत प्राथमिक व उच्च प्राथमिक विद्यालयों में काम कर रहे रसोइयों की काम की सुरक्षा व प्रतिष्ठित पारिश्रमिक भुगतान दिया जाए। यह भी पढ़ेंः-किसान आंदोलनः 12 दिनों बाद खोला गया ये बॉर्डर, दिल्ली में हो सकेगी एंट्री

10 हजार वेतन की मांग

राष्ट्रीय संयोजक ने कहा कि हर साल चयन की प्रक्रिया समाप्त की जाए। रसोइयों ने कहा कि उनका चयन जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी एवं जिलाधिकारी के अधीन किया जाए। महंगाई तथा मेहनत और स्कूल में लगने वाले समय की कीमत को देखते हुए कम से उन्हें कम दस हजार रूपये मिलना चाहिए। प्रदर्शन करते हुए महिलाएं होमगार्ड मुख्यालय से इकोगार्डेन पहुंची थी। रिपोर्ट- शरद त्रिपाठी, लखनऊ (अन्य खबरों के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर(X) पर फॉलो करें व हमारे यूट्यूब चैनल को भी सब्सक्राइब करें)