उत्तराखंड

आंगनबाड़ी वर्कर्स का विभिन्न मांगों को लेकर सरकार के खिलाफ प्रदर्शन

Aanganvani workers
देहरादून: उत्तराखंड राज्य आंगनबाड़ी कर्मचारी (Anganwadi workers) संघ के आह्वान पर आंगनबाड़ी वर्कर्स मसूरी के शहीद स्थल पर एकत्रित हुई और अपनी मांगों को लेकर प्रदर्शन किया। इस दौरान उन्होंने कार्य बहिष्कार की चेतावनी दी। दरअसल मसूरी में आंगनबाड़ी वर्कर्स की मसूरी ब्लाक अध्यक्ष जयश्री बिष्ट के नेतृत्व में आंगनबाड़ी वर्कर्स ने प्रदेश की सरकार पर आंगनबाड़ी वर्कर्स की अनदेखी का आरोप लगाया। आंगनबाड़ी वर्कर्स की मसूरी ब्लाक अध्यक्ष जयश्री बिष्ट ने कहा कि, आंगनबाड़ी वर्कर्स से सरकार बहुत काम ले रही हैं, जबकि उन्हें सिर्फ मानदेय दिया जा रहा है। लंबे समय से राजकीय कर्मचारी घोषित करने की मांग उठाई जा रही है। पिछले 20 फरवरी से आंगनबाड़ी वर्कर्स और सहायिकाएं कार्य बहिष्कार पर हैं।

आंगनबाड़ी वर्कर्स ने किया कार्यों का बहिष्कार  

उन्होंने कहा कि, अगर जरूरी हुआ तो निर्वाचन संबंधी कार्यों का पूरी तरह से बहिष्कार कर दिया जाएगा। धरना प्रदर्शन में वक्ताओं ने कहा कि, उत्तराखंड में कार्यरत आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं को राज्य कर्मचारी घोषित किया जाए और न्यूनतम वेतन के साथ ही उनकी अन्य जायज मांगों पर भी शीघ्र अमल किया जाए। साथ ही कहा कि, उनकी मांगे जायज हैं और सरकार को उनकी मांगों पर ध्यान देना चाहिए। ये भी पढ़ें: बिना ड्राइवर जम्मु से पंजाब पहुंची ट्रेन, रेलवे की बड़ी लापरवाही आई सामने उन्होंने वरिष्ठता के आधार पर मानदेय में वृद्धि की मांग भी रखी। उन्होंने कहा कि, वह लंबे समय से मांग को लेकर आंदोलनरत हैं। पूर्व में विभागीय मंत्री रेखा आर्य ने भी मानदेय बढ़ाने का भरोसा दिया था, लेकिन अभी तक सरकार की तरफ से कोई कार्रवाई नहीं की गई है। (अन्य खबरों के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर(X) पर फॉलो करें व हमारे यूट्यूब चैनल को भी सब्सक्राइब करें)