हाथ, हाथी और साइकिल की सवारी के बाद कमल के हुए देवेन्द्र यादव, देखें राजनीतिक सफर

0
7

कासगंजः जिले की राजनीति में दबदबा रखने वाले पूर्व सांसद डॉ. देवेन्द्र सिंह यादव (Devendra Yadav) रविवार सुबह से भाजपा के सदस्य बन गये। प्रदेश मुख्यालय में उप मुख्यमंत्री ब्रजेश पाठक, प्रदेश अध्यक्ष भूपेन्द्र सिंह, सांसद राजवीर सिंह और ब्रज क्षेत्र अध्यक्ष दुर्विजय सिंह के सामने उन्होंने सपा छोड़कर भाजपा की सदस्यता ग्रहण की।

कैसा रहा राजनीतिक सफर

उन्होंने अपना राजनीतिक सफर एक ग्राम प्रधान के रूप में शुरू किया और दो बार देश की सर्वोच्च संस्था संसद के सदस्य रहे। कांग्रेस से राजनीति शुरू करने वाले पूर्व सांसद ने बसपा से लोकसभा चुनाव भी लड़ा और बसपा के जिला अध्यक्ष रहे। समाजवादी पार्टी के संस्थापक मुलायम सिंह यादव और फिर अखिलेश यादव के करीबी कहे जाने वाले पूर्व सांसद डॉ. देवेन्द्र सिंह यादव ने रविवार को सपा से इस्तीफा दे दिया है। इन दिनों लोकसभा चुनाव के चलते जिले में सपा को बड़ा नुकसान हुआ है। उन्होंने अपना राजनीतिक सफर ग्राम प्रधान के रूप में शुरू किया। सबसे पहले उन्होंने कांग्रेस की सदस्यता लेकर पटियाली से पहला विधानसभा चुनाव लड़ा और विधायक बने। इससे पहले सोरों ब्लॉक प्रमुख भी रह चुके हैं। इसके बाद वह सपा से विधायक रहे। समाजवादी पार्टी के टिकट पर दो बार संसद में एटा लोकसभा क्षेत्र का प्रतिनिधित्व भी किया।

2009 में पूर्व मुख्यमंत्री कल्याण सिंह सपा के समर्थन से कासगंज एटा लोकसभा क्षेत्र से संसद पहुंचे। इस दौरान देवेंद्र सिंह कल्याण के सामने बसपा से चुनाव लड़े और हार गये। इसके बाद 2014 में वह समाजवादी पार्टी से कल्याण सिंह के बेटे राजवीर सिंह से चुनाव हार गये। 2019 में भी सपा ने चुनाव लड़ा और वह राजवीर सिंह से चुनाव हार गये। रविवार को उन्होंने लखनऊ स्थित बीजेपी प्रदेश कार्यालय में बीजेपी का कमल थामा। उनके साथ प्रोफेसर नीरज किशोर मिश्रा, हरिओम शर्मा समेत स्थानीय नेता भी मौजूद थे।

यह भी पढ़ेंः-Rajasthan News: राजस्थान की सभी 25 सीट जीतेगी बीजेपी, मंत्री किरोड़ीलाल का दावा

सांसद ने कार पर लगाया बीजेपी का झंडा

उप मुख्यमंत्री और प्रदेश अध्यक्ष के सामने पार्टी की सदस्यता ग्रहण करने के बाद जब पूर्व सांसद डॉ. देवेन्द्र सिंह यादव भाजपा कार्यालय से बाहर निकले तो सांसद राजवीर सिंह राजू ने अपने कर कार्यालय से सपा का झंडा हटाकर उसकी जगह भाजपा का झंडा लगा दिया।

(अन्य खबरों के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर(X) पर फॉलो करें व हमारे यूट्यूब चैनल को भी सब्सक्राइब करें)