बंगाल

Bengal: लोकसभा चुनाव से पहले राज्य प्रशासन स्तर पर फेरबदल, कई अधिकारियों के बदले दफ्तर

Offices of secretary level officers changed in Bengal
West Bengal News: लोकसभा चुनाव से पहले राज्य सचिवालय में मंत्रालय के सचिव स्तर के अधिकारियों में फेरबदल किया गया है। कार्मिक, निवेश एवं प्रशासन विभाग ने एक सर्कुलर जारी कर अधिकारियों के तबादले की घोषणा की है। लोक निर्माण एवं नगर विकास विभाग के प्रमुख सचिव खलील अहमद को पश्चिम क्षेत्र विकास विभाग में भेजा गया है।

संजय बंसल को मिली ये जिम्मेदारी

आईएएस अधिकारी देवाशीष सेन लंबे समय तक HIDCO के चेयरमैन रहे। उनके रिटायरमेंट के बाद ये जिम्मेदारी संजय बंसल को मिली। अब उन्हें लोक निर्माण एवं शहरी विकास विभाग का सचिव तथा हिडको का प्रबंध निदेशक बनाया गया है और साथ ही वंचित कल्याण विभाग का अतिरिक्त प्रभार भी दिया गया है। यह भी पढ़ें-Maratha Reservation: विधानसभा में मराठा आरक्षण बिल पेश, 10 प्रतिशत आरक्षण मिलना तय

इन अधिकारियों को मिली ये जिम्मेदारी

नीलम मीना को उपभोक्ता संरक्षण विभाग का प्रधान सचिव बनाया गया है। अतिरिक्त मुख्य सचिव स्तर की अधिकारी रोशनी सेन पश्चिम बंगाल औद्योगिक विकास निगम की अध्यक्ष और प्रबंध निदेशक हैं। वह पर्यावरण, मत्स्य पालन और उपभोक्ता संरक्षण विभाग के प्रभारी थे। उपभोक्ता संरक्षण विभाग आईएएस अधिकारी नीलम को दिया गया है और बाकी दो कार्यालय रोशनी के पास रखे गए हैं। अभिनव चंद को पर्यावरण अध्ययन एवं वेटलैंड संस्थान का निदेशक नियुक्त किया गया है। नवान्न के एक सूत्र के मुताबिक, लोकसभा चुनाव के कारण लंबे समय से एक ही पद पर जमे अधिकारियों का तबादला करना जरूरी हो गया था। उसी नियम के तहत राज्य प्रशासन के शीर्ष स्तर पर यह फेरबदल किया गया है। राज्य प्रशासन के सूत्रों के मुताबिक, चुनाव आयोग मार्च के दूसरे सप्ताह में आगामी लोकसभा चुनाव के कार्यक्रम की घोषणा कर सकता है। उससे पहले राज्य सरकार ट्रांसफर पोस्टिंग की प्रक्रिया पूरी कर लेना चाहती है। (अन्य खबरों के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर(X) पर फॉलो करें व हमारे यूट्यूब चैनल को भी सब्सक्राइब करें)