क्राइम बंगाल

Fast Track First Court: डेढ़ साल के बच्चे की कातिल मां को सुनाई गई फांसी की सजा

fansi ki saja
हावड़ा: प्रेमिका के साथ मिलकर में डेढ़ साल के बच्चे की हत्या करने वाले दोषियों को हावड़ा फास्ट ट्रैक फर्स्ट कोर्ट (Fast Track First Court) ने को फांसी की सजा सुनाई। बताया जा रहा है कि, ये मामला करीब आठ साल से चल रहा था जिसके बाद दोनों पक्षों को दलीलों को सुनाने के बाद अदालत ने अपना फैसला सुनाया।

प्रेमी संग फरार हुई कातिल मां 

बता दें, हसीना अपने डेढ़ साल के बेटे जीशान के साथ आंध्र प्रदेश के गुंटूर के एक चावल मिल कॉलोनी में अपनी मां के साथ रहती थी। पहले तो जीवन सामान्य रूप से चल रहा था। लेकिन समस्या 2015 के आखिरी में शुरू हुई। दरअसल, हसीना अपने पुराने प्रेमी भन्नू के साथ एक नए रिश्ते में बंध गई। 22 दिसंबर 2015 को हसीना अपने बेटे के साथ घर छोड़कर चली गई। वह अपनी प्रेमी के साथ हैदराबाद चला गई। वो दोनों वहां पति-पत्नी की तरह रहने लगे। इस बीच, अपने पोते को न पाकर हसीना की मां ने थाने में गुमशुदगी दर्ज कराई। ये भी पढ़ें: CG: श्रम मंत्री ने शुरू की श्रमिक पेंशन सहायता योजना, खातों में आएंगे इतने रुपये

मां ने प्रेमी के साथ मिलकर की बेटे की हत्या 

कुछ समय बाद हसीना ने अपने प्रेमी के साथ मिलकर अपने बेटे की हत्या कर दी। हत्या के बाद बेटे का शव फलकनामा एक्सप्रेस ट्रेन के एक डिब्बे में एक बैग में रख दिया। वहीं जब अगले दिन यानी 24 जनवरी को ट्रेन हावड़ा पहुंची। इसके बाद बच्चे का शव बरामद किया गया। हावड़ा जीआरपी पुलिस ने मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है। 15 गवाहों की गवाही के बाद कोर्ट ने हसीना और भन्नू को दोषी पाया। जिसके बाद जस्टिस संदीपन चक्रवर्ती ने दोनों आरोपितों को मौत की सजा सुनाई। (अन्य खबरों के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर(X) पर फॉलो करें व हमारे यूट्यूब चैनल को भी सब्सक्राइब करें)