अमृत योजना की धीमी प्रगति पर राज्यमंत्री ने जताई नाराजगी, बैठक में अधिकारियों को दिये निर्देश

0
158

झांसीः भानु प्रताप सिंह वर्मा, राज्यमंत्री (सूक्ष्म,लघु और मध्यम उद्यम) की अध्यक्षता में विकास भवन सभागार में जिला विकास समन्वय और निगरानी समिति (दिशा) की बैठक हुई। बैठक में उन्होंने उपस्थित अधिकारियों से कहा कि आप अपनी विभागीय योजनाओं की जानकारी एवं किए जा रहे कार्यों को जनप्रतिनिधियों से अवश्य साझा करें ताकि कार्यों का सत्यापन किया जा सके और योजनाओं में आ रही समस्याओं को शासन स्तर पर दूर किया जा सके।

बैठक में उन्होंने अधिकारियों से कहा कि योजनाएं गुणवत्ता सहित समय से पूर्ण हों ताकि लोगों को योजनाओं का लाभ प्राप्त हो सके। बैंकर्स एमएसएमई योजना में सहानुभूति पूर्वक आवेदनों को स्वीकृत कर ऋण वितरण में रुचि लें बुंदेलखंड क्षेत्र में औद्योगिक विकास की असीम संभावनाएं हैं। उन्होंने कहा कि एमएसएमई इकाइयों से अधिक से अधिक सामान क्रय किया जाना सुनिश्चित किया जाए ताकि छोटी छोटी इकाइयों को प्रोत्साहित किया जा सके। प्रदेश की नई औद्योगिक नीति का लाभ क्षेत्र के उद्यमियों को भी प्राप्त हो इसे भी सुनिश्चित किया जाए।

राज्य मंत्री भानु प्रताप सिंह वर्मा की अध्यक्षता में आयोजित दिशा बैठक में 43 एजेंडा बिंदुओं की समीक्षा की गई। बैठक में प्रधानमंत्री आवास योजना शहरी की समीक्षा के दौरान योजना का लाभ अपात्र को दिए जाने पर नाराजगी व्यक्त करते हुए कहा कि पारदर्शिता के बाद भी योजनाओं में अपात्र का चयन कैसे हो जाता है? उन्होंने कमेटी गठित कर चयन समिति की जांच करने के आदेश दिए।

श्रमिकों को स्किल्ड बनाने के निर्देश –

दिशा बैठक की अध्यक्षता करते हुए राज्य मंत्री भानु प्रताप सिंह वर्मा ने मनरेगा के कार्यों की जानकारी ली और अधिक से अधिक श्रमिकों को स्किल्ड बनाए जाने के निर्देश दिए, ताकि उनके द्वारा किए गए कार्य की अधिक मजदूरी उन्हें प्राप्त हो सके। जनपद में 216 श्रमिकों को ही इस्किल्ड किया गया है जिसे और बढ़ाए जाने के निर्देश दिए। मनरेगा अंतर्गत अब तक किए गए कार्यों की सूची जनप्रतिनिधियों को उपलब्ध कराएं ताकि किए गए कार्यों का सत्यापन किया जा सके।

ये भी पढ़ें..इमरान पर हमले के पीछे PM शहबाज, इन तीन लोगों ने मिलकर मरवाई गोली !

समूह के उत्पादों की बिक्री करवाएं –

दीनदयाल अंत्योदय योजना की समीक्षा के दौरान राज्यमंत्री ने कहा कि समूह के उत्पादों की बिक्री हेतु बाजार उपलब्ध कराया जाए। इसके अतिरिक्त जनपद में आयोजित होने वाले मेलों में उन्हें निशुल्क दुकान भी आवंटित की जाए ताकि अधिक से अधिक लोग समूह द्वारा तैयार उत्पादों को क्रय कर सकें। सांसद झांसी-ललितपुर अनुराग शर्मा ने रेलवे स्टेशन पर एनआरएलएम समूह के उत्पादों की बिक्री हेतु स्टॉल लगाए जाने का भी सुझाव दिया। उन्होंने कहा कि ओडीओपी के साथ ही समूह के उत्पादों की भी बिक्री की जाए।

योजना की धीमी प्रगति पर असंतोष –

बैठक में अमृत योजना की समीक्षा करते हुए जनपद में फेस 2 की धीमी प्रगति पर असंतोष व्यक्त किया उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री जी द्वारा स्थलीय निरीक्षण के दौरान कार्य को रात में भी किए जाने के निर्देश दिए गए थे ताकि कार्य समय से पूर्ण किया जा सके। उन्होंने कहा कि कार्य की गति बढ़ाते हुए प्रतिमा प्रगति रिपोर्ट जनप्रतिनिधियों से भी साझा की जाए ताकि ठेकेदारों पर दबाव पढ़े और कार्य तेजी से पूर्ण करें। साथ ही, स्वच्छ भारत मिशन ग्रामीण की समीक्षा के दौरान माननीय मंत्री जी ने पंचायती राज विभाग द्वारा हैंडपंप रिबोर कराए जाने की सूची उपलब्ध कराए जाने के निर्देश दिए।

15 मजरों में विद्युतीकरण के दिये निर्देश –

समेकित विद्युत विकास योजना की समीक्षा के दौरान विद्युत विभाग के कार्य और कार्य प्रणाली पर असंतोष व्यक्त किया। उन्होंने आईपीडीएस योजना अंतर्गत कितने ट्रांसफार्मर लगाए और कितनी विद्युत लाइन बदली गई उसकी जांच कराए जाने के निर्देश दिए। उन्होंने जनप्रतिनिधियों द्वारा विकासखंड बंगरा के कटेरा देहात के 15 मजरों में विद्युतीकरण न होने पर नाराजगी व्यक्त की हो तत्काल विद्युतीकरण कराए जाने के निर्देश दिए।

राज्यमंत्री ने कार्यों पर जताई नाराजगी –

विकास भवन सभागार में आयोजित दिशा बैठक की अध्यक्षता करते हुए राज्यमंत्री ने एनएचएआई के कार्य की समीक्षा की और किए जा रहे कार्यों पर नाराजगी व्यक्त की, जल जीवन मिशन के तहत पाइप लाइन डाले जाने के कारण सड़क क्षतिग्रस्त होने पर उन्होंने कार्यदाई संस्था द्वारा तत्काल सड़क आवागमन हेतु सुचारू करने के लिए निर्देश दिए ताकि लोगों को असुविधा ना हो।

स्वास्थ्य सेवाओं पर सांसद असंतुष्ट –

सांसद झांसी-ललितपुर अनुराग शर्मा ने दिशा बैठक में जनपद में स्वास्थ्य सेवाओं को लेकर असंतोष व्यक्त किया। मेडिकल कॉलेज इमरजेंसी में एक्स-रे आदि कराए जाने के लिए प्राइवेट कर्मी पेशेंट को बाहर ले जाते हैं, इसके साथ ही 108 के संचालन पर भी उन्होंने नाराजगी व्यक्त की। सांसद ने जनपद में प्रधान मंत्री आदर्श ग्राम योजना के अंतर्गत ग्राम बुढावली और तिलैथा में धीमी गति से कार्य होने पर नाराजगी व्यक्त की और जल्द से जल्द कार्य पूर्ण कराए जाने के निर्देश दिए। इसके साथ ही उन्होंने जनपद विशेष रूप से बुंदेलखंड में उद्योग सृजन का माहौल बनाए जाने के लिए उपायुक्त उद्योग को सुझाव दिया कि आप एमएसएमई योजना अंतर्गत स्थापित होने वाली इकाइयों से संपर्क स्थापित करें और समस्याओं का निस्तारण कराएं ताकि उत्तर प्रदेश में माननीय मुख्यमंत्री द्वारा उद्योग सृजन का जो माहौल बना हुआ है उसका लाभ बुंदेलखंड क्षेत्र को भी मिले।
दिशा बैठक में विधायक गरौठा जवाहर लाल राजपूत ने क्षेत्र में अपात्रों के अंत्योदय कार्ड की जांच कराए जाने की भी सलाह दी और अपात्रों को हटाते हुए पात्रों को सूची में जोड़ा जाए। उन्होंने क्षेत्र में कोटेदारों द्वारा घाटतोली की भी शिकायत की और प्रभावी रोक लगाने की बात कही। दिशा बैठक का संचालन मुख्य विकास अधिकारी जुनैद अहमद ने किया।

इस मौके पर सांसद झांसी ललितपुर अनुराग शर्मा, जिला पंचायत अध्यक्ष पवन कुमार गौतम, विधायक गरौठा जवाहर लाल राजपूत, एमएलसी रमा निरंजन, जिलाधिकारी रविंद्र कुमार, मुख्य विकास अधिकारी जुनैद अहमद, सीएमओ डा. सुधाकर पाण्डेय, डीडीओ सुनील कुमार, सहित विद्युत विभाग जल निगम जल संस्थान लोक निर्माण विभाग पशुपालन सहित अन्य विभागों के अधिकारीयों सहित अन्य जनप्रतिनिधी उपस्थित रहे।

(अन्य खबरों के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें व हमारे यूट्यूब चैनल को भी सब्सक्राइब करें)