Monday, June 17, 2024
spot_img
Homeप्रदेशछत्तीसगढ़Korba: किसानों ने धान क्रय केंद्र प्रभारी पर लगाया मारपीट का आरोप,...

Korba: किसानों ने धान क्रय केंद्र प्रभारी पर लगाया मारपीट का आरोप, धरने पर बैठे

कोरबा (Korba): कोरबा जिले के ग्राम तिलकेजा स्थित धान खरीदी केंद्र में किसान धरने पर बैठ गए। किसानों ने क्रय केंद्र प्रभारी पर अभद्रता का आरोप लगाया है। किसानों का कहना है कि प्रभारी ने पांच किसानों का धान यह कहकर लेने से इनकार कर दिया कि उनका धान अमानक है।

किसानों ने बताया कि प्रभारी ने यह कहते हुए धान लेने से इनकार कर दिया कि इसमें जड़ें निकल आई हैं। इसके बाद किसान आक्रोशित हो गए और धान क्रय केंद्र के गेट के बाहर धरने पर बैठ गए। किसानों ने प्रभारी पर दुर्व्यवहार करने के साथ ही पैसे मांगने का भी आरोप लगाया है। धान खरीदी केंद्र पर एक किसान ने धान प्रभारी पर केंद्र में नहीं घुसने देने का भी आरोप लगाया।

ये भी पढ़ें: Korba: दुर्घटना बीमा का उठाएं लाभ, श्रम विभाग में करें आवेदन

पुलिस ने मामले में हस्तक्षेप किया

तिलकेजा निवासी अनिता बाई ने बताया कि समय पर बोरा नहीं मिलने, टोकन से छेड़छाड़ के अलावा फड़ प्रभारी के अभद्र व्यवहार के कारण उन्हें गेट पर धरना देना पड़ा। मामले की जानकारी मिलने के बाद उरगा थाना पुलिस को इस मामले में हस्तक्षेप करना पड़ा। पुलिस ने मौके पर पहुंचकर किसानों को समझाया, जिसके बाद किसानों ने धरना समाप्त कर दिया। किसान शंकर दयाल शर्मा ने बताया कि धान कटाई के बाद टोकन लेकर बेचने आये थे। इसके बाद गेट खुलने पर जैसे ही वह अंदर गये तो प्रभारी ने उनके साथ दुर्व्यवहार किया। जब इसका विरोध किया गया तो उन्होंने धान लेने से इनकार कर दिया।

एफएडी प्रभारी का आरोपों से इनकार 

किसानों द्वारा लगाए जा रहे आरोपों को लेकर एफएडी प्रभारी दिलचंद धीवर ने सभी आरोपों से इनकार किया। उन्होंने कहा कि धान अमानक है, इसलिए उन्होंने किसानों से धान वापस ले जाने को कहा।

(अन्य खबरों के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर(X) पर फॉलो करें व हमारे यूट्यूब चैनल को भी सब्सक्राइब करें)

RELATED ARTICLES
- Advertisment -spot_imgspot_img

सम्बंधित खबरें