समुद्री लुटेरों के चंगुल से निकले भारतीयों के खिले चेहरे, ‘भारत माता की जय’ से गूंज उठा समंदर

0
3

Somalia Coast Ship Hijacked : सोमालिया तट से अपहरण जहाज एमवी लीला नोरफोक पर सवार चालक दल सहित सभी 15 भारतीयों को सुरक्षित बचा लिया गया है। भारतीय सैन्य अधिकारियों ने कहा कि नौसेना के कमांडो जहाज के अन्य हिस्सों में तलाशी अभियान चला रहे हैं।

समुद्री लुटेरों के खिलाफ सख्त कार्रवाई के निर्देश

वहीं, भारतीय नौसेना प्रमुख एडमिरल आर हरि कुमार ने अरब सागर में सक्रिय भारतीय युद्धपोतों को समुद्री लुटेरों के खिलाफ सख्त कार्रवाई करने का निर्देश दिया है। इसके साथ ही क्षेत्र में व्यापारिक जहाजों पर हमलों को रोकने के लिए भारतीय नौसेना के चार युद्धपोतों को अरब सागर में तैनात किया गया है। आपको बता दें कि सोमालिया के तट के पास अरब सागर में लाइबेरिया के झंडे वाले एक मालवाहक जहाज का अपहरण कर लिया गया था।

15 भारतीय सवार थे जहज पर

एमवी लीला नोरफोक नाम के इस जहाज के चालक दल में 15 भारतीय थे। सूचना मिलते ही भारतीय नौसेना ने जहाज को छुड़ाने के लिए अपना युद्धपोत आईएनएस चेन्नई भेजा और शुक्रवार दोपहर वह अपहृत जहाज के करीब पहुंच गया।  इससे पहले जानकारी मिली थी कि आईएनएस चेन्नई ने अपहृत जहाज को रोक लिया है और नौसेना के मार्कोस कमांडो एमवी लीला पर उतरे हैं। इन कमांडो ने जहाज में कार्रवाई शुरू कर दी है। इससे पहले शुक्रवार सुबह नौसेना के गश्ती विमान ने अपहृत जहाज की तलाश की और विमान ने जहाज से संपर्क स्थापित किया।

यह भी पढ़ें-समुद्री लुटरों से निपटने के लिए अंतर्राष्ट्रीय सहयोग कर रहे तटरक्षक

UKMTO से मिली जानकारी

इस जहाज के अपहरण की सूचना गुरुवार को ब्रिटिश सेना के तहत काम करने वाली संस्था मैरीटाइम ट्रेड ऑपरेशंस (यूकेएमटीओ) ने दी थी। इसके बाद भारतीय नौसेना ने सक्रियता से जहाज की तलाश की और शुक्रवार सुबह उसे समुद्र में पाया।

नौसेना के एक प्रवक्ता ने कहा कि जहाज के चालक दल ने गुरुवार शाम को यूकेएमटीओ को एक संकट संदेश भेजा था जिसमें उन्हें बताया गया था कि पांच-छह हथियारबंद अज्ञात लोग जहाज पर आए थे और जहाज पर कब्जा करने की कोशिश कर रहे थे। जैसे ही यह सूचना भारतीय नौसेना को मिली वह सक्रिय हो गई और अपहृत जहाज की तलाश शुरू कर दी। नौसेना के प्रवक्ता ने कहा है कि स्थिति से बेहद गंभीरता से निपटा जा रहा है। इसके लिए क्षेत्र में काम कर रही अन्य एजेंसियों का भी सहयोग लिया जा रहा है।

(अन्य खबरों के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर(X) पर फॉलो करें व हमारे यूट्यूब चैनल को भी सब्सक्राइब करें)