गृहमंत्री अमित शाह ने ‘केजरीवाल’ सरकार को दी नसीहत, गिनाए भाजपा के काम

नई दिल्लीः देश की राजधानी दिल्ली में एक पार्क के उद्घाटन के दौरान केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह ने निगम के बकाया फंड को लेकर दिल्ली सरकार पर तंज कसा। उन्होंने निगम के कामों को याद दिलाते हुए कहा, “केजरीवाल सरकार यदि सभी निगमों का 13 हजार करोड़ रुपये दे देते तो मुझे लगता है कि ये और बहुत अच्छा काम करते।” इससे पहले भी तीनों निगमों के महापौर लगातार दिल्ली सरकार पर निगम के बकाया फंड को लेकर कहते रहे हैं, लेकिन आज पंजाबी बाग में भारत दर्शन पार्क के उद्घाटन के दौरान गृहमंत्री अमित शाह ने कहा, “दिल्ली के मुख्यमंत्री को एक बात कहने आया हूं कि थोड़ी एडवरटाइज कम करके नगर निगम का बकाया चुका दीजिए, इनपर बड़ी कृपा होगी।”

ये भी पढ़ें..ओमीक्रोन के खतरे के बीच 15 से 18 साल के बच्चों को 3 जनवरी से लगेगी वैक्सीन

उन्होंने आगे कहा, “प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने दिल्ली के लिए बहुत सारे काम किए हैं। प्रधानमंत्री के मन में देश की राजधानी कैसी हो, इसका खाका खींचा हुआ है। दिल्ली में एक ऐसी सरकार है जो काम की जगह प्रचार ज्यादा करती है, फिर भी निगम हमारे पास होने के कारण बहुत सारे काम हुए हैं।” उन्होंने आगे कहा कि भारत सरकार ने अपने अधिकार का उपयोग करते हुए भी दिल्ली के लिए बहुत काम किए हैं, ताकि दिल्ली देश की राजधानी के अनुरूप गौरव के साथ विश्व के साथ खड़ी रह सके।

गृहमंत्री ने निगम के कार्य गिनाते हुए कहा, “अनधिकृत कॉलोनी को नियमित करना यह बहुत बड़ा कदम है। इस पूरी प्रक्रिया में हरदीप सिंह पूरी जी भी साथ जुड़े हुए थे। जितने भी फ्लाईओवर हैं, उसके नीचे पेड़-पौधे लगाकर उसका सुंदरीकरण किया गया है। 31 बंजर पड़े भूखंडों को पार्क के रूप में विकसित किया गया है।” उन्होंने कहा, “इस देश में दो तरह की कार्य संस्कृति है, एक जो कहते हैं, वह करते हैं, चाहे दिल्ली का विकास हो, कोरोना के खिलाफ लड़ना हो, देश की सुरक्षा सुनिश्चित करनी हो, ढेर सारी नीतियों का निर्माण करना हो, नई शिक्षा नीति लाना हो आदि और दूसरी संस्कृति है, जिसमें करो या न करो एडवरटाइज दे दो, अपनी फोटो छपवा दो। दिल्ली वालों भी अब समझ आ गया है कि कौन सी कार्य संस्कृति तय करनी है।”

अमित शाह ने कहा, “25 दिसंबर के दिन दो ऐसे महापुरुषों का जन्म हुआ, जिन्होंने भारत के इतिहास में भारत की संस्कृति और उसके गौरव गान के लिए काम किया। पहले महामना पंडित मदन मोहन मालवीय और दूसरे देश के पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी। इस देश में सबसे पहले गुड गवर्नेस और सुशासन के विचार को स्वरूप देने का काम अटल जी ने किया। अटल जी ने एक विचारधारा के लिए अपना पूरा जीवन लगा दिया।”

दक्षिणी निगम ने ‘वेस्ट टू वेल्थ’ की अवधारणा को आगे बढ़ाते हुए पंजाबी बाग क्षेत्र में एक बेहद आकर्षक व बेहतरीन ‘भारत दर्शन पार्क’ विकसित किया है। यह भारत का पहला ऐसा पार्क है, जिसमें स्क्रैप व वेस्ट से भारत के विभिन्न राज्यों की 22 ऐतिहासिक व सांस्कृतिक स्मारकों और कलाकृतियों की अनुकृतियों को सुंदर रूप में प्रदर्शित किया गया है।

(अन्य खबरों के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर  पर फॉलो करें व हमारे यूट्यूब चैनल को भी सब्सक्राइब करें…)