छात्रों के लिए खुशखबरी, शुरू होने जा रही नई क्लास, लेकिन अभी नहीं जा पाएंगे कॉलेज

नई दिल्ली: दिल्ली विश्वविद्यालय में साइंस, कॉमर्स और आर्ट्स स्ट्रीम के प्रथम वर्ष के छात्रों का नया बैच शुरू होने जा रहा है। हालांकि नया सत्र शुरू होने के बावजूद यह छात्र कॉलेज नहीं जा सकेंगे। दिल्ली विश्वविद्यालय में इन छात्रों के लिए फिलहाल ऑफलाइन कक्षाएं शुरू नहीं की जाएंगी। ऐसे में छात्रों के समक्ष केवल ऑनलाइन कक्षाओं का ही विकल्प है। दिल्ली विश्वविद्यालय के मुताबिक विश्वविद्यालय में रिओपनिंग दिल्ली डिजास्टर मैनेजमेंट कमेटी यानी (डीडीएमए) द्वारा जारी दिशानिर्देशों के अनुरूप की जा रही है। विश्वविद्यालय के मुताबिक फिलहाल डीडीएमए ने 100 फीसदी क्षमता के साथ विश्वविद्यालय खोलने के निर्देश जारी नहीं किए हैं। ऐसी स्थिति में अभी सभी छात्रों के लिए कॉलेज खोलने की अनुमति नहीं दी जा सकती है। इसका एक बड़ा कारण यह भी है कि दिल्ली विश्वविद्यालय के कई छात्र देश के उन क्षेत्रों में हैं जहां अभी भी कोरोना संक्रमण की दर अधिक है।

दिल्ली विश्वविद्यालय में नए बैच की दाखिला प्रक्रिया पूरी होने के बाद प्रथम वर्ष की ऑनलाइन कक्षाएं 22 नवंबर से शुरू की जाएंगी। दिल्ली विश्वविद्यालय द्वारा जारी किए गए कैलेंडर के मुताबिक इन छात्रों की पहली परीक्षा वर्ष 2022 में आयोजित की जाएंगी। यह परीक्षाएं 21 मार्च से 4 अप्रैल के मध्य ली जाएंगी।

इनके अलावा दिल्ली विश्वविद्यालय ने सभी स्नातक और स्नातकोत्तर पाठ्यक्रमों की तीसरे, 5वें और 7वें सेमेस्टर की परीक्षाएं 30 नवंबर से ऑनलाइन आयोजित करने की घोषणा की।

दिल्ली विश्वविद्यालय में नियंत्रित तरीके से छात्रों को कैंपस आने की इजाजत भी दी गई है। दिल्ली विश्वविद्यालय में भी फिलहाल विज्ञान एवं शोध से जुड़े छात्रों को ऑफलाइन कक्षाओं की इजाजत मिली है। वहीं अन्य विषयों के अधिकांश छात्रों के लिए दिल्ली विश्वविद्यालय में भी अभी केवल ऑनलाइन कक्षाओं का ही विकल्प मौजूद है।

दिल्ली विश्वविद्यालय का कहना है कि तय नियमों के अनुरूप अभी तक की रिओपनिंग की गई है। इसके कई चरण पूरे भी किए जा चुके हैं। रिओपनिंग को लेकर को दिल्ली विश्वविद्यालय में अगले सप्ताह एक और अहम मीटिंग होनी है।

यह भी पढ़ेंः-खालिद अनवर के बयान पर मंत्री सम्राट चौधरी का पलटवार, बोले-जिन्ना…

कोरोना के कारण लागू किए गए लॉकडाउन के दौरान सभी विश्वविद्यालयों को बंद कर दिया गया था। हालांकि अब विभिन्न विश्वविद्यालयों को फिर से खोला जा रहा है। इसी क्रम में जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय ने भी तीसरे वर्ष के पीएचडी छात्रों के लिए कैंपस खोल दिया है। एमएससी और बीटेक छात्रों के लिए भी कैंपस खोला गया है। यहां एमएससी फाइनल ईयर और बीटेक चौथे वर्ष के सभी छात्रों को विश्वविद्यालय कैंपस में आने की अनुमति है।

(अन्य खबरों के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर  पर फॉलो करें व हमारे यूट्यूब चैनल को भी सब्सक्राइब करें…)