ऑनलाइन गेमिंग और वेबसाइट के जरिये धोखाधड़ी का भंडाफोड़, 13 साइबर अपराधी गिरफ्तार

0
149
online-gaming-fraud

Online Gaming Fraud: साइबर अपराध रोकने के लिए चलाये जा रहे अभियान में पलामू पुलिस को बड़ी सफलता मिली है। गुप्त सूचना पर मेदिनीनगर सदर थाना पुलिस ने चियांकी स्थित राधिका निवास में छापेमारी कर कंप्यूटर, लैपटॉप और मोबाइल के जरिये ऑनलाइन वेबसाइट के जरिये आईपीएल सट्टा, गेमिंग और सट्टेबाजी का कारोबार करने वाले 13 साइबर अपराधियों को गिरफ्तार किया।

सभी अपराधी बिहार-यूपी के अलावा झारखंड के अलग-अलग इलाकों के रहने वाले हैं। मौके से कई कंप्यूटर और उसके उपकरण, 30 मोबाइल, 5 सिम कार्ड और अन्य सामान बरामद किये गये हैं। यूपीआई के जरिए करोड़ों के लेनदेन का हिसाब-किताब मिला है। इसकी जांच की जा रही है।

13 साइबर अपराधी गिरफ्तार

शनिवार को एसपी रिश्मा रमेसन ने अपने कार्यालय में इस संबंध में जानकारी दी। उन्होंने कहा कि कॉल सेंटर जैसी ऑनलाइन वेबसाइटों के माध्यम से आईपीएल सट्टेबाजी, गेमिंग और जुए के अवैध कारोबार का पर्दाफाश करते हुए 13 साइबर अपराधियों को गिरफ्तार किया गया है और कंप्यूटर और अन्य सामान बरामद किया गया है। मास्टरमाइंड की पहचान की जा रही है। वह रांची का रहने वाला बताया जा रहा है।

यह भी पढ़ें-NCP-SP ने घोषित किए 5 लोकसभा उम्मीदवार, जानिए अहमदनगर से कौन लड़ेगा चुनाव?

उन्होंने बताया कि ऑनलाइन जुड़ने के लिए व्हाट्सएप नंबर दिया गया था। इस पर क्लिक करते ही लोग जुड़ जाते थे और फिर उन्हें यूजर-आईडी देकर ऑनलाइन आईपीएल सट्टेबाजी, गेमिंग, जुआ आदि के अवैध कारोबार में खेलने की अनुमति दी जाती थी। हर दिन करोड़ों रुपये का लेन-देन होता था। सभी लेनदेन यूपीआई के माध्यम से किए गए। साइबर अपराध में पकड़े गए सभी लोग पैड स्टाफ के तौर पर काम कर रहे थे। एक युवक बाहर से परीक्षा देने आया था और फिर यहां आकर उसे इस कंपनी के बारे में जानकारी मिली और वह इसमें शामिल हो गया।

करोड़ों जीतने का देते थे लालच

सभी लोग ग्राहकों से डील करते थे और उन्हें ऑनलाइन सट्टा, सट्टा और जुआ खेलने का लालच देकर प्रेरित करते थे। उन्होंने बताया कि पूरा खेल अवैध तरीके से चल रहा था। इनके द्वारा कई लोगों को ठगा भी जा चुका है। इसके लिए जांच की जा रही है। अभी शिकायत सामने नहीं आई है।

गिरफ्तार साइबर अपराधियों में मुकेश कुमार (22), राजेश कुमार (40), रोहित कुमार सोनी (38), अमित कुमार (28), ऋषि राज सिंह (25), अविनाश कुमार (30), सुशील कुमार सोनी (27) शामिल हैं। , विकास कुमार प्रजापति (27), विकास कुमार महतो (24), पिंटू कुमार (26), मनीष कुमार (19) और नीरज कुमार (19) और अन्य। उनके पास से विभिन्न कंपनियों के सिम कार्ड के साथ 30 मोबाइल फोन, 5 लैपटॉप, 9 मॉनिटर, 9 सीपीयू, 9 कीबोर्ड, 9 चूहे, 9 यूपीएस राउटर और अन्य तार, 5 पीस सिम कार्ड का पूरा सेट बरामद किया गया है।

(अन्य खबरों के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर(X) पर फॉलो करें व हमारे यूट्यूब चैनल को भी सब्सक्राइब करें)