Featured हरियाणा जरा हटके

चमत्कार! परिजनों ने कर ली थी अंतिम संस्कार की तैयारी, मौत के तीन घंटे बाद वापस लौटी जिंदगी

ambulance
Karnal News: आपने मृत व्य़क्ति के जिंदा होने की खबरें कई बार सुनी होगी। जहां शमसान ले जाते वक्त या चिता पर लेटाते वक्त मृत व्यक्ति जिंदा खड़ा हो गया। ऐसा ही एक मामला हरियाण के करनाल से सामने आया है। यहां शुक्रवार को लोगों ने चमत्कार होते देखा। जिसे देखकर हर व्यक्ति हैरान है। दरअसल, 80 साल के बुजुर्ग व्यक्ति को डॉक्टरों ने मृत घोषित कर दिया था। लेकिन सड़क के गड्ढों के कारण वह फिर से जिंदा उठ खड़ा हो गया।

परिजनों ने बताया चमत्कार

बता दें कि 80 साल के बुजुर्ग दर्शन सिंह बराड़ को डॉक्टरों ने मृत घोषित कर दिया था लेकिन जब उनके परिजन उनके शव को पटियाला से करनाल घर ले जा रहे थे तभी वह अचानक हिलने-डुलने लगे। बराड़ के परिवार ने बताया की शव ले जा रही एम्बुलेंस जब सड़क के गड्ढों से टकराई तो अचानक उनका शरीर हिलने लगा। उन्होंने तुरंत उन्हें एक नजदीकी हॉस्पिटल में ले जाया गया। हरियाणा के करनाल के पास निसिंग में रहने वाले बराड़ गई दिनों से बीमार थे, उनके परिजनों ने पटियाला के एक अस्पताल में इलाज के लिए भर्ती कराया था। परिजनों ने बताया कि बराड़ को चार दिनों तक वेंटिलेटर पर रखा गया था। डॉक्टरों ने हार्ट अटैक आने के कारण उन्हें मृत घोषित कर दिया था। वहीं, दुखी परिवार उनके अंतिम संस्कार की तैयारी में लगे थे। कई लोग उनके अंतिम दर्शन के लिए भी एकत्रित हुए थे।

डॉक्टरों ने क्या कहा?

हालांकि पटियाला अस्पताल से घर ले जाते समय उनकी एम्बुलेंस हरियाणा के कैथल में ढांक गांव के पास एक गड्ढे से टकरा गई। जिसके बाद बराड़ के शरीर में अचानक हलचल पैदा हो हुई, परिजनों ने दिल की धड़कन देखी और तुरंत उन्हें नजदीकी अस्पताल ले जाया गया। अस्पताल में डॉक्टरों की टीम ने बराड़ के जिंदा होने की पुष्टि की! और तुरंत निसिंग के एक अस्पताल में रेफर कर दिया। (अन्य खबरों के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर(X) पर फॉलो करें व हमारे यूट्यूब चैनल को भी सब्सक्राइब करें)