मध्य प्रदेश Featured

बैंक कर्मचारी ही निकला 42 लाख की लूट का मास्टरमाइंड, दमोह पुलिस ने ऐसे सुलझाया केस

damoh-bank-employee

दमोह: मध्य प्रदेश के दमोह जिले के अंतर्गत आने वाले ग्राम फतहपुर स्थित मध्यांचल बैंक में लाखों की डकैती का मामला सामने आते ही पुलिस सकते में आ गई। दमोह जिले के इतिहास में यह बड़ा मामला बताया जा रहा था। दमोह पुलिस अधीक्षक श्रुत कृति सोमवंशी और अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक संदीप मिश्रा ने खुद कमान संभाली और मामले को सुलझाने के लिए जिले के सभी पुलिस स्टेशनों को घेरने का आदेश दिया। सूचना मिलते ही सागर संभाग के डीआइजी भी मौके पर पहुंचे।

साथियों के साथ मिलकर दिया अंजाम

जांच के दौरान जब पुलिस ने संदेह के आधार पर कार्रवाई शुरू की तो पता चला कि जिस मध्यांचल ग्रामीण बैंक में डकैती हुई थी, उसी बैंक के एक कर्मचारी ने, जो अस्थायी कर्मचारी है, अपने साथियों के साथ मिलकर इस डकैती को अंजाम दिया है। । घटना की हकीकत पर गौर करें तो उन्होंने खुद को घायल भी कर लिया और नोटों की कुछ गड्डियां उनके साथियों ने इधर-उधर नालियों में फेंक दीं।

यह भी पढ़ें-एकतरफा प्यार में हैवान बना युवक, घर में घुसकर की युवती को चाकू से गोदा

ऐसे सुलझाया पुलिस ने मामला

पुलिस की सूझबूझ और सक्रियता से मंगलवार की देर रात पूरा मामला सुलझ गया। मामले में बैंक कर्मचारी ही आरोपी निकले। बुधवार को पुलिस अधीक्षक सोमवंशी ने बताया कि 42 लाख रुपये की रकम जब्त कर तीन को आरोपी बनाया गया है। पुलिस मामले की जांच में जुटी है। बड़ी लूट की गुत्थी सुलझाने में दमोह साइबर सेल ने भी अहम भूमिका निभाई।

(अन्य खबरों के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर(X) पर फॉलो करें व हमारे यूट्यूब चैनल को भी सब्सक्राइब करें)