यूपी में 11 जिलों के 304 गांव बाढ़ से प्रभावित, खतरे के निशान से ऊपर बह रहीं गंगा-यमुना

26

flood-in-up

लखनऊः उत्तर प्रदेश में वर्तमान में 11 जिलों के 304 गांव बाढ़ से प्रभावित हैं। राज्य में वर्षा प्रभावित जिलों में खोज एवं बचाव के लिए एनडीआरएफ, एसडीआरएफ और पीएसी की कुल 13 बचाव टीमें काम कर रही हैं। राज्य के राहत आयुक्त जीएस नवीन कुमार ने शनिवार को बारिश की स्थिति की जानकारी देते हुए बताया कि फिलहाल राज्य के सभी तटबंध सुरक्षित हैं, कहीं भी कोई चिंताजनक स्थिति नहीं है।

उन्होंने बताया कि पिछले 24 घंटों में राज्य में 10.2 मिमी औसत वर्षा हुई है, जो सामान्य वर्षा 10.6 मिमी के मुकाबले 96 प्रतिशत है। इस प्रकार, 01 जून से अब तक राज्य में 246.2 मिमी औसत वर्षा हुई है, जो सामान्य वर्षा 220 मिमी के मुकाबले 112 प्रतिशत है। राहत आयुक्त ने बताया कि पिछले 24 घंटों में प्रदेश के कुछ जिलों में 30 मिमी या उससे अधिक बारिश दर्ज की गयी है। इसमें वाराणसी, बहराईच, कुशीनगर, जौनपुर, आज़मगढ़, बदायूँ, बाराबंकी, श्रावस्ती शामिल हैं। राज्य में गंगा और यमुना नदियां खतरे के निशान से ऊपर बह रही हैं।

ये भी पढ़ें..Chandrayan-3 Launch: चंद्रयान-3 के सफल परीक्षण पर ओवैसी बोले- सभी भारतीयों…

उन्होंने बताया कि बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों में अब तक कुल 2450 सूखा राशन किट वितरित किये गये हैं तथा 37182 लंच पैकेट भी वितरित किये गये हैं। राज्य में अब तक 679 बाढ़ शरणालय स्थापित किये गये हैं। राहत आयुक्त ने बताया कि अब तक कुल नौ पशु शिविर संचालित किये जा रहे हैं, जिनमें चारे आदि की पर्याप्त व्यवस्था की गयी है।

(अन्य खबरों के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें व हमारे यूट्यूब चैनल को भी सब्सक्राइब करें)