भारत के खिलाफ वनडे सीरीज जीतने से आगे के लिए मनोबल बहुत बढ़ेगा: बावुमा

केपटाउनः दक्षिण अफ्रीका के सफेद गेंद के कप्तान टेम्बा बावुमा का मानना है कि भारत के खिलाफ वनडे सीरीज जीत से उनकी टीम का आत्मविश्वास बढ़ेगा। साथ ही उन्होंने कहा कि उनका मुख्य ध्यान दक्षिण अफ्रीका की रणनीतियों को अच्छी तरह से लागू करने पर होगा। तीन मैचों की टेस्ट श्रृंखला 2-1 से जीतने के बाद दक्षिण अफ्रीका का अब ध्यान 19 जनवरी से पार्ल में शुरू होने वाली एकदिवसीय श्रृंखला पर केंद्रित है। भारत पिछली बार 2018 में छह मैचों की वनडे सीरीज 5-1 से जीती थी। यह दक्षिण अफ्रीका में उनकी पहली एकदिवसीय श्रृंखला में जीत थी।

ये भी पढ़ें..अखिलेश यादव ने कहा-राजनीतिक साजिश के चलते नहीं हुआ चंद्रशेखर से गठबंधन

2018 श्रृंखला में जो हुआ उसके बारे में नहीं सोच रहा हूं

बावुमा ने कहा, “हमें भारत के खिलाफ अगली एकदिवसीय श्रृंखला में चीजों को ठीक करना होगा। मैं उस 2018 श्रृंखला में जो हुआ उसके बारे में नहीं सोच रहा हूं। मैं अपनी खुद की खेल शैली स्थापित करने और अपनी रणनीति को अच्छे से लागू करने के बारे में अधिक चिंतित हूं। भारत के खिलाफ एकदिवसीय श्रृंखला जीत से हमें काफी आत्मविश्वास मिलेगा और खेलों से पहले कुछ गति मिलेगी।”

बावुमा को लगता है कि 2021 टी20 विश्व कप में अभियान के बाद दक्षिण अफ्रीका की सफेद गेंद वाली टीम की छवि बदल रही है। यूएई में मेगा इवेंट में, दक्षिण अफ्रीका ने अपने पांच ग्रुप 1 मैचों में से चार जीते थे, केवल ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ टूर्नामेंट के पहले मैच में हार के कारण नेट रन-रेट के आधार पर सेमीफाइनल से चूक गए थे।

उन्होंने कहा, “इस दक्षिण अफ्रीकी सफेद गेंद वाली टीम के बारे में धारणा बदल रही है। अतीत में, यह कहा जाता था कि हमारे पास स्पिन खेलने की क्षमताओं में कमी थी और हमने विदेशी परिस्थितियों में संघर्ष किया। मुझे लगता है कि हमने टी20 विश्व कप में बहुत से लोगों को गलत साबित किया है। हमें ऑस्ट्रेलिया में अगले टी20 विश्व कप के लिए तैयार रहना है, जिसके लिए मानसिकता में एक और बदलाव की आवश्यकता होगी।”

उनका मानना है कि कोविड-19 के नए ओमिक्रॉन वायरस के कारण नीदरलैंड के खिलाफ श्रृंखला रद्द होने के बावजूद कई नए चेहरों वाली एकदिवसीय टीम को बहुत कुछ हासिल करना है। उन्होंने कहा, “एकदिवसीय टीम को अभी बहुत कुछ हासिल करना है। टीम में कुछ नए चेहरे हैं। दुर्भाग्य से, कोरोना के कारण हमें पिछले दिसंबर में नीदरलैंड के खिलाफ श्रृंखला समाप्त करने का मौका नहीं मिला।”

(अन्य खबरों के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर  पर फॉलो करें व हमारे यूट्यूब चैनल को भी सब्सक्राइब करें…)