Kohli-Rohit Retirement: ‘रोहित-कोहली’ के संन्यास के साथ ही भारतीय क्रिकेट के एक युग का हुआ अंत

79
virat-kohli-rohit-sharma- retirement

Virat Kohli-Rohit Sharma Retirement, नई दिल्लीः दुनिया के दो महानतम बल्लेबाजों विराट कोहली और रोहित शर्मा (Rohit Sharma) का विश्व कप जीतने का सपना पूरा हो गया है। रोहित शर्मा ने विराट कोहली के साथ मिलकर बारबाडोस में दक्षिण अफ्रीका को रोमांचक फाइनल में हराकर विश्व कप जीतने के बाद टी20 अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट से संन्यास ले लिया है। उन्होंने पुष्टि की है कि वह वनडे और टेस्ट खेलना जारी रखेंगे।

भारत ने 11 साल बाद जीती कोई ICC ट्रॉफी

बता दें कि भारत ने 17 साल बाद टी20 वर्ल्ड कप जीता है जबकि 11 साल बाद कोई ICC ट्रॉफी जीती है। भारत के वर्ल्ड कप जीतते ही विराट (Virat Kohli) ने ऐलान कर दिया कि वह अब इस फॉर्मेट में टीम इंडिया के लिए नहीं खेलेंगे। विराट के संन्यास के कुछ समय बाद ही भारतीय कप्तान रोहित शर्मा ने टी20 इंटरनेशनल क्रिकेट से संन्यास की घोषणा कर दी। दोनों दिग्गजों ने आखिरकार टी20 वर्ल्ड कप जीतने के बाद संन्यास की घोषणा की।

‘Kohli-Rohit’ के संन्यास के साथ ही एक युग का हुआ अंत

रोहित और विराट के टी20 इंटरनेशनल क्रिकेट से संन्यास लेने के साथ ही भारतीय क्रिकेट में एक युग का अंत हो गया है। इन दोनों दिग्गजों ने कई मौकों पर टीम इंडिया को जीत दिलाई है। रोहित ने टी20 इंटरनेशनल क्रिकेट में दुनिया के सबसे ज्यादा रन (159 मैचों में 4231 रन ) बनाने वाले बल्लेबाज के तौर पर इस फॉर्मेट को अलविदा कहा, जबकि विराट ने दूसरे नंबर पर रहते हुए टी20 इंटरनेशनल क्रिकेट को अलविदा कहा।

india-vs-south-africa-t20-world-cup-2024

रोहित और कोहली का टी20 प्रारूप से संन्यास लेना पूरी तरह से अप्रत्याशित नहीं था। दोनों खिलाड़ियों ने 2022 टी20 विश्व कप सेमीफाइनल में भारत की हार के बाद कोई टी20 मैच नहीं खेला था और इस साल जनवरी में ही 2024 टी20 विश्व कप पर ध्यान केंद्रित करते हुए इस प्रारूप में खेलना शुरू किया।

ये भी पढ़ेंः-T20 World Cup 2024: विश्व चैंपियन बना भारत, फाइनल में दक्षिण अफ्रीका को 7 रन से हराया

रोहित-विराट का एक साथ सपना हुआ पूरा

बता दें कि रोहित (Rohit Sharma) 2007 में टी20 विश्व कप जीतने वाली भारतीय टीम का हिस्सा थे और वह उस टूर्नामेंट में बतौर खिलाड़ी खेले थे। अब 2024 में कप्तान के तौर पर। ‘हिटमैन’ के नाम से मशहूर रोहित का यह नौवां टी20 विश्व कप था और वह टी20 विश्व कप में सबसे ज्यादा मैच खेलने वाले खिलाड़ी हैं। विराट ने 2011 में वनडे विश्व कप और 2013 में आईसीसी चैंपियंस ट्रॉफी जीती थी। लेकिन उसके बाद से टीम इंडिया का खिताबी सूखा जारी रहा। हालांकि अब रोहित और विराट का एक साथ टी20 विश्व कप जीतने का सपना पूरा हो गया है।

rohit-virat-kohli

रोहित ने इस टूर्नामेंट में दूसरे सबसे ज़्यादा रन बनाने वाले खिलाड़ी है। उन्होंने, टूर्नामेंट में 156.70 की स्ट्राइक रेट से 257 रन बनाए वो भी अमेरिका और वेस्टइंडीज़ में मुश्किल बल्लेबाज़ी परिस्थितियों में। जबकि विराट कोहली ने फाइनल मुकाबले में सबसे ज्यादा 76 रनों की शानदार पारी खेली। कोहली को प्लेयर आफ द मैच चुना गया। वहीं पुरस्कार लेने के बाद कोहली ने कहा कि यह उनका आखिरी टी20 अंतरराष्ट्रीय मैच था।

फाइनल के बाद रोहित ने कही ये बात

रोहित ने फाइनल के बाद प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा, “यह मेरा आखिरी टी-20 अंतरराष्ट्रीय मैच भी था। इस प्रारूप को अलविदा कहने का इससे बेहतर समय नहीं हो सकता। मैंने इसके हर पल का लुत्फ़ उठाया है। यह मेरे लिए बहुत भावुक पल था। मैं अपने जीवन में इस खिताब के लिए बहुत बेताब था। खुश हूं कि हमने आखिरकार यह मुकाम हासिल कर लिया।”

(अन्य खबरों के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर(X) पर फॉलो करें व हमारे यूट्यूब चैनल को भी सब्सक्राइब करें)