Paper Leak Case: MP से जुड़े UP पेपर लीक मामले के तार, भोपाल की प्रिंटिंग प्रेस में छपे थे प्रश्न-पत्र, 6 आरोपी गिरफ्तार

30
paper-leak-case
paper-leak-case

Paper Leak Case: उत्तर प्रदेश में समीक्षा अधिकारी और सहायक समीक्षा अधिकारी परीक्षा के प्रश्न पत्र लीक मामले में STF ने सोमवार को बड़ा खुलासा किया है। दरअसल, पेपर भोपाल की एक प्रिंटिंग प्रेस में छपे थे। इस मामले में यूपी एसटीएफ ने प्रिंटिंग प्रेस के मैकेनिकल इंजीनियर सुनील रघुवंशी समेत 6 लोगों को प्रयागराज से गिरफ्तार किया है।  आरोपित सुनील ने पेपर लीक के एवज में दस लाख रुपये लिए थे।

साथियों की मदद से लीक किया पेपर   

STF की पूछताछ में सुनील ने बताया कि, दस लाख रुपए लेकर उसने पर्चा लीक किया था। प्रिंटिंग मशीन के पार्ट्स में खराबी बताकर उसने एक पुर्जे को निकाल लिया था। इसे रिपेयर कराने के नाम पर उसने पार्ट्स को बड़े बॉक्स में कागजों में लपेटकर पैक किया। इसी के बीच उसने मौका देखकर पेपर छिपा दिया था। इस तरह आसानी से वह पेपर को बाहर निकाल लाया था। इसके बाद उसने पेपर साथियों की मदद से लीक कर दिया।

ये भी पढ़ें: NEET Paper Leak: मास्टरमाइंड सिकंदर की गिरफ्तारी के बाद खुलने लगी पेपर लीक की परतें

मामले में शामिल 6 आरोपी गिरफ्तार   

बता दें, प्रश्न पत्र लीक मामले में जिन आरोपितों को गिरफ्तारी हुई है, उनमें सुनील रघुवंशी, भोपाल (मप्र), सुभाष प्रकाश, मधुबनी (बिहार), विशाल दुबे, प्रयागराज (यूपी), संदीप पाण्डेय, प्रयागराज (यूपी), अमरजीत शर्मा, गया (बिहार), विवेक उपाध्याय, बलिया (यूपी) शामिल हैं । बता दें कि, उत्तरप्रदेश लोक सेवा आयोग प्रयागराज ने 11 फरवरी 2024 को समीक्षा अधिकारी/सहायक समीक्षा अधिकारी परीक्षा-2023 का आयोजन किया था। इस परीक्षा के शुरू होने से पहले ही पेपर सोशल मीडिया पर वायरल होने की शिकायत मिली थी। जिसके बाद सरकार ने परीक्षा को निरस्त कर दी थी और यूपी STF को इसकी जांच सौंपी गई।

(अन्य खबरों के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर(X) पर फॉलो करें व हमारे यूट्यूब चैनल को भी सब्सक्राइब करें)