Cannes में रेड कार्पेट पर टॉपलेस होकर पहुंची महिला, जानें क्या है पूरा मामला

मुंबईः एक तरफ जहां कान्स फिल्म फेस्टिवल 2022 में दुनियाभर के सितारों का जमावड़ा लगा हुआ है। दुनिया भर के तमाम सेलिब्रिटी इसमें अपने हुस्न का जलवा बिखेर रहे हैं तो वहीं दूसरी तरफ वहां कुछ ऐसा हुआ जिसने हर किसी को चैंका दिया। दरअसल, इवेंट के दौरान एक महिला एक्टिविस्ट ने यूक्रेन में महिलाओं के साथ हो रहे सेक्सुअल वायलेंस के खिलाफ मैसेज देने के लिए रेड कार्पेट पर अपने कपड़े उतार दिए। इस घटना के कई वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हैं।

वीडियो में महिला ने अपनी बॉडी पर पेंट से ब्लू और येलो कलर का यूक्रेन का झंडा बनाया हुआ है। इसके साथ ही झंडे के ऊपर महिला ने ब्लैक कलर से एक मैसेज ‘स्टॉप रेपिंग अस’ लिखा हुआ है। इसके अलावा महिला के पैरों पर ब्लड रेड कलर भी दिखाई दे रहा है। वीडियो में देखा जा सकता है कि यूक्रेन में महिलाओं के साथ हो रहे शारीरिक शोषण का खुलासा करने के लिए महिला ने इस इंटरनेशनल प्लेटफॉर्म का इस्तेमाल करते हुए रेड कार्पेट पर ‘स्टॉप रेपिंग अस’ का नारा भी लगाया। इसके तुरंत बाद फिल्म फेस्टिवल के गार्ड्स हरकत में आए, उन्होंने अपने कोट की मदद से महिला के शरीर को ढका और रेड कार्पेट से उसे हटा दिया गया।

View this post on Instagram

A post shared by Vesti.bg (@vesti.bg_)

ये भी पढ़ें..हैदराबाद में एक और ऑनर किलिंग,सरेआम चाकू मारकर की युवक की…

इस दौरान महिला के बैक पर एससीयूएम भी लिखा हुआ था। एससीयूएम एक कट्टरपंथी फेमिनिस्ट एक्टिविस्ट ऑर्गेनाइजेशन है। इस ऑर्गेनाइजेशन ने सोशल मीडिया पर महिला का फोटो शेयर कर लिखा, इस एक्टिविस्ट ने रूसी सैनिकों द्वारा युद्ध के दौरान यूक्रेनी महिलाओं के साथ किए गए बलात्कार और यौन उत्पीड़न को उजागर कर दिया है। इस घटना ने फेस्टिवल में मौजूद सभी लोगों को हैरान कर दिया।

(अन्य खबरों के लिए हमें फेसबुक औरट्विटरपर फॉलो करें व हमारे यूट्यूब चैनल को भी सब्सक्राइब करें…