TMC पर बिजली और पानी सेवाओं को बंद करने के आरोप , क्या है पूरा मामला जानें

15
shutting-down-electricity-and-water-services

दक्षिण दिनाजपुर: तृणमूल द्वारा संचालित नगरपालिका पर क्षेत्र में बिजली व पेयजल सेवा बंद करने का आरोप लगाते हुए रविवार को गंगारामपुर में राष्ट्रीय राजमार्ग जाम कर प्रदर्शन किया गया। भाजपा ने जल्द से जल्द सेवा शुरू करने की मांग की है। यह प्रदर्शन भाजपा जिला अध्यक्ष प्रदीप सरकार, जिला महासचिव अशोक वर्धन, गंगारामपुर नगर मंडल अध्यक्ष वृंदावन घोष के नेतृत्व में किया गया।

टीएमसी पर बिजली व पानी बंद करने का आरोप

दरअसल, इस बार बालुरघाट लोकसभा सीट पर दो बड़े उम्मीदवारों के बीच कड़ी टक्कर थी। जिसमें भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष सुकांत मजूमदार ने जीत हासिल की। ​​जबकि तृणमूल उम्मीदवार बिप्लब मित्रा को हार का सामना करना पड़ा। आरोप है कि इससे तृणमूल के अंदर रोष व्याप्त है। जिसके कारण बिजली व पेयजल सेवा बंद कर दी गई है।

यह भी पढ़ें-अनूठी कला: अमरोहा के कलाकार ने कोयले से बनाई मोदी की 8 फीट की तस्वीर

भाजपा ने गंगारामपुर चौपाटी पर राष्ट्रीय राजमार्ग जाम कर दिया और पूरे शहर में पेयजल सेवा व स्ट्रीट लाइट शुरू करने की मांग को लेकर प्रदर्शन किया। इस घेराव के कारण गंगारामपुर समेत जिले में काफी तनाव रहा। करीब 30 मिनट तक चले भाजपा के आंदोलन के कारण भारी जाम लग गया।

भाजपा नेता  प्रदीप सरकार क्या बोले

भाजपा जिला अध्यक्ष प्रदीप सरकार ने कहा कि चुनाव के बाद से गंगारामपुर के 18 वार्डों में स्ट्रीट लाइट और पेयजल आपूर्ति सेवा हर दिन चालू थी। चुनाव परिणाम घोषित होने के बाद 18 वार्डों में स्ट्रीट लाइट बंद कर दी गई है। कई वार्डों में पानी की सेवा बंद हो गई है। तृणमूल द्वारा संचालित नगरपालिका ने गंगारामपुर हारने के बाद द्वेष से यह कदम उठाया है।

(अन्य खबरों के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर(X) पर फॉलो करें व हमारे यूट्यूब चैनल को भी सब्सक्राइब करें)