शताब्दी एक्सप्रेस समेत कई ट्रेनों के संचालन में नहीं होगी बाधा

70

 

 

आईपीके, लखनऊः डालीगंज-मैलानी रेल विद्युतीकरण परियोजना के तहत बक्शी का तालाब स्टेशन स्थित 132ध्25 केवी कर्षण सब स्टेशन का उद्घाटन पूर्वोत्तर रेलवे गोरखपुर के प्रमुख मुख्य विद्युत इंजीनियर एके शुक्ला व वरिष्ठ मंडल विद्युत इंजीनियर (टीआरडी) धर्मेन्द्र यादव, प्रबंधक रेल विकास निगम लखनऊ जगन्नाथ मिश्रा की उपस्थिति में हुआ।

रेल विकास निगम द्वारा डॉलीगंज-मैलानी रेल विद्युतीकरण खण्ड पर बक्शी का तालाब, खैराबाद, फरधान रेलवे स्टेशनों के पास 132/25 केवी का कर्षण उपकेंद्र बनाया जा रहा है, जिसमें से सोमवार 11 जनवरी को बक्शी का तालाब कर्षण उपकेंद्र का कार्य पूरा हो गया। इस उपकेंद्र के निर्माण से पूर्वोत्तर रेलवे लखनऊ डिवीजन में इलेक्ट्रिक गाड़ियों के संचालन में सुविधा मिलेगी। अभी तक लखनऊ जंक्शन-ऐशबाग-डालीगंज-मल्हौर तक अमौसी स्थित 132/25 केवी कर्षण उपकेंद्र से 25000 वोल्ट की सप्लाई लेकर विद्युत गाड़ियों का संचालन किया जाता था।

यह भी पढ़ेंः हाईवोल्टेज लाइन की चपेट में आने से युवक की मौत, रेलवे की लापरवाही के चलते हुआ हादसा

 वहीं किसी प्रकार की समस्या आने पर समेत कई मुख्य लाइन की गाड़ियों के संचालन पर इसका प्रभाव पड़ता था। बक्शी का तालाब 132/25 केवी कर्षण उपकेंद्र से ऐशबाग से मल्हौर व ऐशबाग से सिधौली तक के रेलखंड पर विद्युत गाड़ियों का संचालन किया जा सकेगा। इस मौके पर मनोज राव मंडल विद्युत इंजीनियर (टीआरडी) लखनऊ मंडल, योगेश मिश्रा वरिष्ठ प्रबंधक रेल विकास निगम लखनऊ समेत आदि रेल कर्मचारी उपस्थित रहे।