CM शर्मा बोले- हमारी सरकार ने आधी आबादी का रखा पूरा ख्याल, लिए कई ऐतिहासिक निर्णय

31
Chief Minister Bhajan Lal Sharma

जयपुरः मुख्यमंत्री भजनलाल शर्मा ने कहा कि आधी आबादी के योगदान के बिना देश और प्रदेश सशक्त नहीं बन सकता, इसलिए राज्य सरकार नारी शक्ति के उत्थान और सर्वांगीण विकास के लिए प्रतिबद्धता के साथ काम कर रही है। उन्होंने कहा कि महिला सशक्तिकरण के लिए महिलाओं को समान अधिकार और अवसर मिलना जरूरी है। शर्मा शनिवार को मुख्यमंत्री निवास पर नारी शक्ति द्वारा राज्य में तृतीय श्रेणी शिक्षक भर्ती में महिलाओं का आरक्षण बढ़ाकर 50 प्रतिशत करने पर आयोजित अभिनंदन एवं आभार समारोह को संबोधित कर रहे थे। इस दौरान बड़ी संख्या में आई महिलाओं ने मुख्यमंत्री को पुष्पगुच्छ भेंट कर आभार जताया।

महिलाओं को मिले समान अवसर

शर्मा ने कहा कि महिला सशक्तिकरण केवल आर्थिक स्वावलंबन तक सीमित नहीं है बल्कि इसमें सामाजिक, शैक्षणिक और राजनीतिक क्षेत्रों में महिलाओं को समान अवसर प्रदान करने की बात भी कही गई है, क्योंकि यदि महिलाएं सशक्त होंगी तो वे परिवार और समाज के विकास में महत्वपूर्ण योगदान देंगी। मुख्यमंत्री ने कहा कि भारतीय संस्कृति में नारी शक्ति को प्राचीन काल से ही आदर और सम्मान दिया जाता है। हम शक्ति के लिए मां दुर्गा, ज्ञान के लिए मां सरस्वती और धन के लिए मां लक्ष्मी की पूजा करते हैं।

शर्मा ने कहा कि हमारी बहनें और बेटियां देश और प्रदेश के विकास में महत्वपूर्ण भूमिका निभाएं, इसके लिए सरकार ने तृतीय श्रेणी शिक्षक भर्ती में महिलाओं के लिए आरक्षण 30 से बढ़ाकर 50 प्रतिशत करने समेत कई ऐतिहासिक फैसले लिए हैं। प्रदेश के 73 लाख परिवारों की महिलाओं को 450 रुपए में रसोई गैस सिलेंडर दिए जा रहे हैं। प्रधानमंत्री मातृ वंदन योजना के तहत गर्भवती और स्तनपान कराने वाली महिलाओं को दी जाने वाली राशि भी बढ़ाकर 6500 रुपए कर दी गई है।

रोजगार के मिलेंगे भरपूर अवसर

मुख्यमंत्री ने कहा कि लाडो प्रोत्साहन योजना के तहत गरीब परिवारों में बेटियों के जन्म पर एक लाख रुपए का बचत बांड दिया गया है, साथ ही पंचायती राज, शहरी निकायों और आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं के मानदेय में 10 प्रतिशत की बढ़ोतरी की गई है, साथिन कार्यकर्ताओं के मानदेय में भी बढ़ोतरी की गई है। शर्मा ने कहा कि पिछली सरकार के कार्यकाल में महिलाओं पर अत्याचार के मामलों में प्रदेश नंबर वन बन गया था। महिलाएं असुरक्षित महसूस करती थीं, लेकिन हमारी सरकार ने महिलाओं की सुरक्षा को सर्वोच्च प्राथमिकता देते हुए ‘एंटी रोमियो स्क्वॉड’ का गठन किया है।

मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रदेश के युवा चिंता न करें, सरकार बेटियों के साथ-साथ उन्हें भी आगे बढ़ने के पूरे अवसर उपलब्ध कराएगी। आने वाले दिनों में चरणबद्ध तरीके से भर्ती परीक्षाएं आयोजित कर प्रदेश के विभिन्न विभागों में रिक्त पदों को भरा जाएगा। इसके अलावा, प्रदेश में स्थापित होने वाले उद्योगों में भी युवाओं को रोजगार के भरपूर अवसर मिलेंगे।

यह भी पढ़ेंः-EOU ने केंद्र को सौंपी रिपोर्ट, नीट पेपर लीक मामले में मिले कई दस्तावेज

‘सुकन्या समृद्धि’ योजना के तहत 3.2 करोड़ खाते खोले गए हैं। इसके साथ ही ग्रामीण क्षेत्रों में हर घर में शौचालय बनाकर महिलाओं को खुले में शौच से मुक्त किया गया है और अब प्रधानमंत्री आवास योजना में भी महिलाओं के नाम पर ही मकान आवंटित किए जा रहे हैं।

(अन्य खबरों के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर(X) पर फॉलो करें व हमारे यूट्यूब चैनल को भी सब्सक्राइब करें)