राजस्थान

SI Recruitment Exam Case: लीक पेपर के जरिए डमी कैंडिडेट से पास कराई गई थी परीक्षा

blog_image_660d759033b43

Rajasthan SI Recruitment Exam Case: एसआई भर्ती परीक्षा 2021 के पेपर लीक और डमी कैंडिडेट मामले में मंगलवार को स्पेशल ऑपरेशन ग्रुप ने जिन 15 एसआई को गिरफ्तार किया, उनमें से 5 की जगह 5 डमी थे और 10 लीक पेपर के जरिए परीक्षा में शामिल हुए थे। यही वजह है कि पहले गिरफ्तार किए गए 14 ट्रेनी सब इंस्पेक्टरों की गिरफ्तारी के बाद आरोपियों ने गुपचुप तरीके से जनरल नॉलेज की तैयारी शुरू कर दी। करीब 200 सब इंस्पेक्टर अभी भी एसओजी के निशाने पर हैं। जिन पर एसओजी लगातार नजर बनाए हुए है। एसओजी को विभिन्न माध्यमों से नित नई जानकारी मिल रही है। इसी के चलते एसओजी अपनी कार्रवाई धीरे-धीरे ही सही लेकिन सुचारू रूप से आगे बढ़ा रही है।

डीआइजी परिस देशमुख ने कहा कि जैसे-जैसे इस मामले की जांच आगे बढ़ेगी, परीक्षा में किसी न किसी तरह से अनुचित साधनों का प्रयोग करने वाले प्रशिक्षु उपनिरीक्षकों की संख्या बढ़ती जायेगी। सबसे पहले पकड़े गए 14 प्रशिक्षु एसआई से एसओजी ने गिरफ्तारी के दौरान पूछताछ की तो उनका बुनियादी ज्ञान 10वीं कक्षा के छात्र से भी कम था। इस पर एसओजी ने इन लोगों द्वारा दी गई परीक्षा को वर्ष 2021 में दोबारा आयोजित करने की योजना बनाई। एसआई से डमी पेपर सॉल्व कराने के बाद उन कॉपियों की विशेषज्ञों से अलग से जांच कराई गई। एसओजी ने सभी अभ्यर्थियों की कॉपियां अपने गोदाम में जब्त कर ली हैं। यह इस केस की जांच का एक पहलू है जिसके बारे में आने वाले समय में कोर्ट को बताया जाएगा।

यह भी पढ़ें- Lok Sabha Elections: धनबाद के चुनावी दंगल में ट्रांसजेंडर सुनैना सिंह की एंट्री, क्या बढ़ेगी उम्मीदवारों की मुश्किलें?

 कोर्ट के सामने तथ्य रखे जाएंगे कि एसआई भर्ती परीक्षा 2021 अच्छे अंकों से पास करने वालों की वर्तमान स्थिति क्या है। इससे कोर्ट को उनकी वर्तमान मानसिकता के बारे में भी पता चल सकेगा। पेपर आयोजित होने के बाद लगातार 15 प्रशिक्षु एसआई के बारे में शिकायतें मिल रही थीं। इसके बाद उन्होंने संदिग्ध प्रतीत होने वाले प्रशिक्षु उपनिरीक्षक से पूछताछ करने की योजना बनाई। इसके बाद मंगलवार सुबह टीमें आरपीए पहुंचीं। उस दौरान ये लोग क्लास में मौजूद थे। एसओजी की कार्रवाई के बाद से आरपीए के किशनगढ़ सेंटर में प्रशिक्षण ले रहे कुछ एसआई गायब हैं। हालांकि, एसओजी ने मीडिया से यह जानकारी साझा नहीं की है कि ये लोग सेंटर से क्यों गायब हैं। एसओजी सभी लापता प्रशिक्षु एसआई की जांच के लिए एक विशेष टीम का गठन कर रही है।

(अन्य खबरों के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर(X) पर फॉलो करें व हमारे यूट्यूब चैनल को भी सब्सक्राइब करें)