राजस्थान

राजस्थान में ऑनलाइन फ्रॉड पर लगेगी लगाम, पुलिस ने MISO के साथ किया एमओयू

online fraud
Rajasthan police signs MoU with MISO: राजस्थान पुलिस राज्य में 'ऑनलाइन धोखाधड़ी' के बारे में लोगों को जागरूक कर इसके मामलों पर अंकुश लगाने के लिए ई-कॉमर्स कंपनी 'मिसो' के साथ मिलकर काम करेगी। इस संबंध में एक समझौते (एमओयू) पर बुधवार को जयपुर में पुलिस मुख्यालय में महानिदेशक साइबर अपराध, एससीआरबी और तकनीकी सेवाएं डॉ. रवि प्रकाश मेहरा और महानिरीक्षक एससीआरबी शरत कविराज की उपस्थिति में हस्ताक्षर किए गए। एमओयू पर राजस्थान पुलिस की ओर से पुलिस अधीक्षक, एससीआरबी मनीष कुमार चौधरी और एमआईएसओ की ओर से जनरल काउंसिल लोपामुद्रा राव ने हस्ताक्षर किए। इसके तहत सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म के माध्यम से जन जागरूकता और ऑनलाइन लेनदेन की सुरक्षा से संबंधित सभी महत्वपूर्ण मुद्दों पर हितधारकों के प्रशिक्षण की दिशा में काम किया जाएगा। इससे लोगों में सतर्कता और जागरूकता के साथ सुरक्षित डिजिटल लेनदेन को बढ़ावा देने का माहौल तैयार होगा। गौरतलब है कि 'MISO' पहले भी इस क्षेत्र में कर्नाटक पुलिस के साथ काम कर चुका है। अब यह राजस्थान पुलिस के साथ मिलकर काम करेगी। इस ई-कॉमर्स कंपनी के पास बड़ी संख्या में ग्राहक भी हैं। यह भी पढ़ें-Holi 2024: ब्रज की होली अलग ही उत्साह, सुबह-शाम उड़ रहा अबीर-गुलाल साइबर क्राइम, एससीआरबी एवं तकनीकी सेवाओं के महानिदेशक डॉ. रवि प्रकाश मेहरा ने बताया कि ऑनलाइन ट्रांजैक्शन की दुनिया में लोगों को गुमराह कर धोखाधड़ी करने के कई नए तरीके सामने आ रहे हैं। ऐसे में इस अनुबंध के तहत राजस्थान पुलिस के विशेषज्ञ और ई-कॉमर्स कंपनी 'मिसो' के विशेषज्ञ साझेदारी में लोगों में जागरूकता के जरिए सुरक्षित डिजिटल लेनदेन का माहौल बनाने का काम करेंगे। इसके तहत राजस्थान पुलिस के फेसबुक पेज, एक्स हैंडल और इंस्टाग्राम जैसे सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर संयुक्त अभियान चलाकर लोगों को डिजिटल साक्षरता और ऑनलाइन लेनदेन के लिए जिम्मेदार बनाया जाएगा। दोनों पक्ष इस क्षेत्र में नवाचारों, नए रुझानों और चुनौतियों से निपटने के लिए मिलकर काम करेंगे। इस अवसर पर एमआईएसओ के जनरल काउंसिल लोपामुद्रा राव ने कहा कि ऑनलाइन धोखाधड़ी को रोकने के लिए राजस्थान पुलिस के साथ साझेदारी उनकी कंपनी के लिए गर्व की बात है। हम सुरक्षित ऑनलाइन शॉपिंग और लोगों के लिए सुरक्षित डिजिटल भविष्य की दिशा में काम करेंगे। (अन्य खबरों के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर(X) पर फॉलो करें व हमारे यूट्यूब चैनल को भी सब्सक्राइब करें)