राहुल की जनता से अपील, बुलंद करें अन्नदाताओं की आवाज

124

 

नई दिल्लीः केंद्र के तीन कृषि कानूनों के खिलाफ पिछले 40 दिनों से किसानों का आंदोलन चल रहा है। ऐसे में कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने शुक्रवार देशवासियों से अन्नदाताओं की आवाज बुंलद करने की अपील की है। उन्होंने कहा है कि सत्ताधारी पार्टी गरीब-मजदूर विरोधी है, इसलिए वो किसान कि आवाज नहीं सुन पा रही। वहीं, कांग्रेस पार्टी सोशल मीडिया पर हैशटैग ‘किसान के लिए बोले भारत’ कैंपेने भी चला रही है।

वायनाड से सांसद राहुल गांधी ने ट्वीट कर कहा कि शांतिपूर्ण आंदोलन लोकतंत्र का अभिन्न हिस्सा होता है। हमारे किसान बहन-भाई जो आंदोलन कर रहे हैं, उसे देशभर से समर्थन मिल रहा है। आप भी उनके समर्थन में अपनी आवाज जोड़कर इस संघर्ष को बुलंद कीजिए, ताकि कृषि-विरोधी कानून खत्म हों।

अपने ट्वीट के साथ राहुल ने एक वीडियो भी शेयर किया है, जिसमें कृषि कानूनों के खिलाफ 40 से ज्यादा दिनों से किसानों के प्रदर्शन और उनकी जद्दोजहद को दिखाया गया है। वीडियो में दिखाया गया है कि किसानों की मांग है कि सरकार तीनों कृषि कानूनों को वापस ले और एमएसपी पर लीगल गारंटी दे। आखिर सरकार किसानों की मांगों पर राजी क्यों नहीं हो रही है?

यह भी पढ़ेंः-यूपीः जहरीली शराब पीने से 4 लोगों की मौत, कई बीमार, दोषियों पर लगेगा NSA

उल्लेखनीय है कि कृषि कानूनों के मुद्दे पर सरकार और किसानों के बीच 7 दौर की वार्ता हो चुकी है। हालांकि आज 8वें दौर की वार्ता दिल्ली के विज्ञान भवन में होनी है।