क्वींसलैंड सरकार ने भारतीय टीम से कहा, नियमों से खेलो या नहीं आओ

118
Wellington: India player Ajinkya Rahane and Mayank Agarwal in action during the first Test between New Zealand and India at Basin Reserve cricket stadium in Wellington, New Zealand on Feb. 21, 2020. (Photo: Surjeet Yadav/IANS)

ब्रिस्बेनः ऐसी खबरें हैं कि भारतीय क्रिकेट टीम ब्रिस्बेन में सख्त लॉकडाउन नियमों के कारण ऑस्ट्रेलिया के साथ जारी सीरीज का चौथा और आखिरी टेस्ट गाबा में नहीं खेलना चाहती है। ऐसे में क्वींसलैंड की सरकार ने कहा है कि मेहमान टीम अगर राज्य के प्रोटोकॉल्स मानने की इच्छुक नहीं है तो उसे राज्य में आना नहीं चाहिए। रिपोर्ट हैं कि अगर भारतीय टीम को क्वारंटीन से गुजरना पड़ा तो वह ब्रिस्बेन जाने की इच्छुक नहीं है।

क्वींसलैंड सरकार के सदस्यों ने कहा कि मेहमान टीम के लिए नियमों का पालन करना ही विकल्प है। फॉक्स स्पोटर्स ने क्वींसलैंड के स्वास्थ मंत्री रोस बेट्स के हवाले से लिखा कि अगर भारतीय टीम नियमों का पालन नहीं करना चाहती, तो यहां नहीं आएं।”

क्वींसलैंड के खेल मंत्री टिम मेंडर ने कहा है कि प्रोटोकॉल्स की अवेहलना करने का सवाल ही नहीं है। हर किसी को समान प्रक्रिया से गुजरना होगा। मेंडर ने कहा, “अगर भारतीय क्रिकेट टीम ब्रिस्बेन की क्वरांटीन गाइडलाइंस का पालन नहीं करना चाहती है तो वह यहां नहीं आए। समान नियम हर किसी पर लागू होते हैं। सिम्पल।”

ऑस्ट्रेलियाई बल्लेबाज मैथ्यू वेड ने कहा है कि मेजबान टीम कार्यक्रम का पालन करने के लिए हर तरह से बलिदान करने को तैयार है। उन्होंने कहा, “हमें भी ऑस्ट्रेलिया में घूमने का मन है जैसे दूसरे घूम रहे हैं। लेकिन हम समझते हैं कि हमें इस दौरे को पूरा करने के लिए कुछ बलिदान करने की जरूरत है।”

यह भी पढ़ेंः-21 करोड़ की ड्रग्स के साथ एसटीएफ के हत्थे चढ़े दो तस्कर, जानें पूरा मामला

वेड से जब पूछा गया कि क्या वह सिडनी में लगातार मैच खेलने को तैयार हैं क्योंकि ब्रिस्बेन में क्वरांटीन नियम सख्त हैं? उन्होंने कहा, “नहीं, जाहिर है कि हम ऐसा नहीं करना चाहेंगे। कार्यक्रम आ चुका है और हम उसी पर बने रहना चाहते हैं। मेलबर्न में रूकने की अटकलें थीं। क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया कार्यक्रम का पालन करने को तैयार है।” उन्होंने कहा, “इसलिए मैं हमारे गाबा जाने की उम्मीद करता हूं चाहे क्वारंटीन जैसा भी हो। हम सिर्फ ग्राउंड जाएंगे और वापस होटल आएंगे।”