प्रदेश देश Featured दिल्ली

NDMC ने आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग की मदद के लिये स्वास्थ्य मंत्री के साथ की बैठक

ndmc-news-_604

नई दिल्लीः नई दिल्ली नगरपालिका परिषद (एनडीएमसी) क्षेत्र में स्वास्थ्य सुविधाओं की आवश्यकता वाले आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग की मदद करने के उद्देश्य से एनडीएमसी के उपाध्यक्ष सतीश उपाध्याय ने निर्माण भवन में स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्री मनसुख मंडाविया के साथ बैठक की। बैठक में भारतीय जनता पार्टी, परिषद सदस्य कुलजीत सिंह चहल, विक्रम सिंह मलिक, सचिव-एनडीएमसी, डॉ आर एस शर्मा, सीईओ आयुष्मान भारत प्रधान मंत्री जन आरोग्य योजना (एबी - पीएमजेएवाई) मौजूद रहे।

एनडीएमसी के उपाध्यक्ष सतीश उपाध्याय ने बताया कि कुलजीत सिंह चहल, सदस्य एनडीएमसी ने अन्य सदस्यों के साथ मई 2022 की परिषद की बैठक में यह पहल की थी और परिषद ने केंद्र की प्रमुख ‘आयुष्मान भारत प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना’ (एबी-पीएमजेवाई) एनडीएमसी क्षेत्र के निवासियों के लिए को लागू करने के लिए अपनी सैद्धांतिक मंजूरी दी थी।

उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने फरवरी 2018 में ‘आयुष्मान भारत-प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना’ (एबी-पीएमजेवाई) की शुरूवात की थी। बीमा योजना का उद्देश्य प्रति वर्ष पांच लाख रुपये का वार्षिक स्वास्थ्य कवर प्रदान करना है। उन्होंने कहा कि इस योजना के तहत परिवार की माध्यमिक और तृतीयक देखभाल अस्पताल में भर्ती शमिल होगी। उपाध्याय ने आगे बताया कि आज की बैठक में एनडीएमसी को मंत्री से सकारात्मक प्रतिक्रिया मिली और उन्होंने जरूरतमंद व्यक्तियों के कल्याण के लिए एनडीएमसी क्षेत्र में आयुष्मान भारत योजना के कार्यान्वयन के लिए अपना पूरा समर्थन देने का आश्वासन भी दिया।

यह भी पढ़ेंः-ओलंपिक चैंपियन टेनिस खिलाड़ी मोनिका पुइग ने लिया संन्यास

उन्होंने कहा कि वर्तमान में 2011 की जनगणना के अनुसार एनडीएमसी क्षेत्र की अस्थायी आबादी लगभग 2.5 लाख है। इस आबादी में से इस योजना के तहत लाभार्थियों का डेटा डीएम-नई दिल्ली जिले से लिया जाएगा और उनके लिए योजना लागू की जाएगी। उन्होंने आगे कहा कि एनडीएमसी क्षेत्र में ऐसे लोग हैं जो जेजे क्लस्टर, वाल्मीकि बस्ती और गरीबी रेखा से नीचे रह रहे हैं। लोगों के ये समूह अपनी आजीविका के लिए मुश्किल से ही गुजारा करते हैं और उनके लिए जल्द ही आयुष्मान भारत योजना लागू करना हमारे लिए आवश्यक है।

(अन्य खबरों के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें व हमारे यूट्यूब चैनल को भी सब्सक्राइब करें)