उत्तर प्रदेश

बड़ी कंपनियां देंगी शहर के युवाओं को रोजगार, रिंग रोड के आस-पास स्थापित हो रहे हैं उद्योग

Lucknow Ring Road
Lucknow, लखनऊः ग्राउंड ब्रेकिंग सेरेमनी के भूमि पूजन समारोह में यह तय हो गया कि लखनऊ के युवाओं को भी उनकी योग्यतानुसार शहर में ही काम मिल जाएगा। इसके लिए कई कंपनियों की उपस्थिति भी दर्ज करा दी गई है। काम के सिलसिले में युवाओं को दूसरे जिले में नहीं जाना होगा। सबसे अच्छी बात यह है कि जो उद्योग स्थापित किए जाने हैं, वह रिंग रोड के आस-पास ही ही हैं। प्रधानमंत्री नरेद्र मोदी के इस 104 किमी रोड के उद्घाटन के बाद स्थिति साफ हो जाएगी। रक्षामंत्री राजनाथ सिंह भी 20 फरवरी को इस रिंग रोड का निरीक्षण कर चुके हैं।

कंपनी 1,000 करोड़ रुपए की पूंजी कर रही निवेश कर

शहर में उद्योग लगाने की प्रक्रिया शुरू हो चुकी है। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने इसमें तेजी लाने के निर्देश भी दिए हैं। लखनऊ में सबसे बड़ी वाहन निर्माता कंपनी अशोक लीलंैड के लिए जमीन तो करीब छह माह पहले ही चिन्हित कर ली गई थी, इस पर अब काम भी शुरू कर दिया गया है। कंपनी के पदाधिकारी इंदिरा गांधी प्रतिष्ठान में 19 फरवरी को समारोह के दौरान भी मौजूद रहे। कंपनी 1,000 करोड़ रुपए की पूंजी निवेश कर रही है। सरोजनीनगर क्षेत्र में स्कूटर इंडिया परिसर में यह कंपनी अपनी यूनिट लगाने जा रही है। यूनिट यहां बस की चेसिस बनाएगी और करीब 500 युवकों को रोजगार देगी। इससे यहां के सैकड़ों युवकों को खुशी है, क्योंकि यहां आईटीआई उत्तीर्ण युवाओं की संख्या काफी है। इनको पहले मौका मिलने की उम्मीद है। यह ऐसा क्षेत्र बनकर उभर रहा है, जो वास्तव में औद्योगिक शहर के रूप में निखरने जा रहा है। बंथरा के भटगांव में एरियोलाय टेक्नोलाॅजीज कंपनी अपना एक प्लांट लगाने जा रही है। इस यूनिट के लग जाने से हजारों युवकों को काम मिलने की उम्मीद है। यह कंपनी लखनऊ से ही है और पीटीसी इंडस्ट्री का हिस्सा है। ये भी पढ़ें..अखिलेश ने कहा- युवाओं को नौकरी नहीं देना चाहती सरकार

27 एकड़ में एक बनाया जाएगा विशाल पार्क 

यह कंपनी काफी खास पुर्जे बनाती है। इसने लोहे के भार वाले पुर्जे का विकल्प बनाया और चंद्रयान-3 के लिए काफी काम किया है। इस प्लांट के लग जाने से रक्षा क्षेत्र में महत्वपूर्ण पुर्जे बनाए जाने हैं। पचास एकड़ में फैक्ट्री लगाकर यहां करीब 300 करोड़ रूपए का इन्वेस्ट किया जाना है। इटौंजा क्षेत्र में बहरौरा गांव के पास 27 एकड़ में एक विशाल पार्क बनाया जाएगा। यही कंपनी ने देवा रोड पर लखनऊ फिल्म स्टूडियो भी बना रही है। वेलनेस, एडवेंचर व वाटर्स रिजार्ट्स स्पोर्ट का काम भी जोरों पर है। यह कंपनी लखनऊ को सुंदरता प्रदान करने का काम करेगी। इसके अलावा कई और कंपनियों ने भी शहर में काम शुरू कर दिया है।

लकड़ी की फैक्ट्री भी लगाई जाएगी

शहर में हाईटेक एजुकेशन और लकड़ी की फैक्ट्री भी लगाई जानी है, इसके लिए भी जमीन उपलब्ध कराई जा रही है। लखनऊ विकास प्राधिकरण एजुकेशन क्षेत्र में मेडिकल और इंजीनियरिंग हब बनाने के लिए मोहान रोड योजना को चुन चुका है। क्षेत्र का अधिग्रहण विवाद भी समाप्त कर लिया गया है। यहां शहर की सबसे ऊंची इमारतें बनाने का प्रस्ताव है। चैड़ी सड़कें और माडर्न चैराहे रिंग रोड और आगरा एक्सपे्रेसवे से जोड़ दिए जाने हैं। कुल मिलाकर शहर के युवाओं को बाहर जाने की जरूरत नहीं होगी। यहां रोजगार की अपार संभावनाएं खुल चुकी हैं। कुछ काम तो तेजी से शुरू भी कर दिए गए हैं। (अन्य खबरों के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर(X) पर फॉलो करें व हमारे यूट्यूब चैनल को भी सब्सक्राइब करें)