बीरभूम में शुभेंदु की जनसभा से पहले लगे नारद मामले से जुड़े पोस्टर

कोलकाता: पश्चिम बंगाल में शिक्षक नियुक्ति भ्रष्टाचार मामले को लेकर वरिष्ठ भाजपा विधायक और नेता प्रतिपक्ष शुभेंदु अधिकारी बीरभूम के साइंथिया इलाके में जनसभा करने वाले हैं। शुक्रवार अपराह्न के समय उनकी जनसभा होनी है। उसके पहले पूरे इलाके में पोस्टर लगाये गये हैं जिनमें उन्हें नारद मामले में रिश्वत लेते हुए दिखाया गया है।

भारतीय जनता पार्टी ने आरोप लगाया है कि तृणमूल कांग्रेस के लोगों ने इस तरह के पोस्टर लगाए हैं। तृणमूल कांग्रेस ने आरोपों का खंडन नहीं किया है। एक वीडियो सामने आया है जिसमें तृणमूल कांग्रेस के स्थानीय कार्यकर्ता शुभेंदु अधिकारी की तस्वीर लगा रहे हैं जिसमें नारद स्टिंग ऑपरेशन मामले में वह पैसे लेते नजर आ रहे हैं। जिला तृणमूल अध्यक्ष अणुव्रत मंडल से इस बारे में प्रतिक्रिया के लिए संपर्क करने की कोशिश की गई, लेकिन उन्होंने इस पर कुछ भी बोलने से इनकार कर दिया। अन्य नेताओं का कहना है कि जो शुरुआत से भ्रष्ट रहा है, बंगाल में भ्रष्टाचार को बढ़ावा देने में जिसकी भूमिका बड़ी रही है वह भ्रष्टाचार के खिलाफ कार्यक्रम करने जा रहा है। इसलिए उसे उसकी तस्वीर के जरिये याद दिलानी जरूरी थी।

यह भी पढ़ेंः-नैंसी पेलोसी की ताइवान यात्रा के बाद चीन ने खोया आपा,…

उल्लेखनीय है कि 2016 के विधानसभा चुनाव से पहले नारद स्टिंग ऑपरेशन का वीडियो जारी किया गया था। तब शुभेंदु अधिकारी ममता कैबिनेट में मंत्री थे और नारद स्टिंग ऑपरेशन करने वाले फर्जी कंपनी के सीईओ बने वरिष्ठ पत्रकार मैथ्यू सैमूअल से पांच लाख रुपये घूस लेते नजर आए थे। कैमरे पर वह मैथ्यू चैनल के फर्जी कंपनी के गैरकानूनी कारोबार को आगे बढ़ाने में मदद करने का आश्वासन देते हुए भी नजर आए थे। मामले की जब सीबीआई जांच शुरू हुई तब बाद में विधानसभा चुनाव से पहले वह भाजपा में शामिल हो गए थे।

(अन्य खबरों के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें व हमारे यूट्यूब चैनल को भी सब्सक्राइब करें)