पीएम मोदी सूरत में किया मेट्रो का शिलान्यास, बताया आत्मनिर्भरता का प्रतीक

69
New Delhi, Jan 17(ANI): Prime Minister Narendra Modi addressing at the flagging off ceremony of eight trains connecting different regions of the country to Kevadiya, Gujarat, through video conferencing, in New Delhi on Saturday. (ANI Photo)

अहमदाबादः प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने आज वर्चुअल तरीके से अहमदाबाद-गांधीनगर मेट्रो रेल परियोजना के दूसरे चरण और सूरत में मेट्रो रेल परियोजना के कार्य का शुभारंभ किया। इन परियोजनाओं के पूरा होने से क्षेत्र के विकास में और तेजी आयेगी।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सोमवार को वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से सुबह 11:00 बजे सूरत की बहुप्रतीक्षित सूरत मेट्रो रेल परियोजना के कार्य का शुभारंभ किया। इस परियोजना पर 12,020 करोड़ रुपये की लागत आयेगी। प्रधानमंत्री मोदी ने अहमदाबाद-गांधीनगर के बीच मेट्रो के दूसरे चरण में 28.25 किलोमीटर के कार्य का भी शुभारंभ किया। इस परियोजना पर 5,384 करोड़ रुपये की लागत आयेगी।

वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से आयोजित कार्यक्रम में प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि कोरोना संकट के बीच देश में 17,000 करोड़ रुपये से अधिक के बुनियादी ढांचे के काम हो रहे हैं। अहमदाबाद व सूरत गुजरात की आत्मनिर्भरता का प्रतीक हैं। यह मेट्रो परियोजना अहमदाबाद व सूरत में कनेक्टिविटी के लिए काम करेगी। उन्होंने कहा कि सूरत एक भारत, सर्वश्रेष्ठ भारत का एक उदाहरण है और यह दुनिया का 14वां सबसे तेजी से विकसित होने वाला शहर है।

इस मौके पर केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने कहा कि आज का दिन सूरत और अहमदाबाद के लिए बहुत ही शुभ दिन है, जो शहरी विकास के चरण को आगे ले जाएगा। नरेंद्र मोदी ने गुजरात के सर्वांगीण विकास की नींव रखी है। पिछले छह सालों में पीएम मोदी के नेतृत्व में देश का हर कोना विकसित हुआ है।

यह भी पढ़ेंः-21-22 जनवरी को लखनऊ दौरे पर जेपी नड्डा, योगी मंत्रिमंडल में फेरबदल की चर्चा तेज

अहमदाबाद मेट्रो रेल परियोजना चरण-2 पर खर्च होंगे 5,384 करोड़ रुपये

अहमदाबाद मेट्रो रेल परियोजना चरण-2 असल में मेट्रो रेल परियोजना चरण-1 का विस्तार है, जो अहमदाबाद को गांधीनगर से जोड़ती है। अहमदाबाद मेट्रो रेल परियोजना की कुल लंबाई 40.03 किमी है। जिसमें से 6.5 कि.मी. लंबे ट्रैक पर मेट्रो सुविधा मार्च 2019 से चालू हो चुकी है और शेष 33.5 किलोमीटर अगस्त, 2022 तक पूरा होने की संभावना है। परियोजना के चरण दो में पहला मोटेरा स्टेडियम से महात्मा मंदिर तक 22.8 किमी होगा, जबकि दूसरा जीएनएलयू से गिफ्ट सिटी तक 5.4 किमी होगा। मेट्रो के दूसरे चरण में 5,384 करोड़ रुपये खर्च होंगे।