PM Modi In Telangana: पीएम मोदी ने परिवारवाद पर फिर बोला हमला, अब कह डाली ये बात

7

नई दिल्लीः लोकसभा चुनाव से पहले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Modi) का कांग्रेस और उसके सहयोगियों पर हमला जारी है। मंगलवार को तेलंगाना में एक सार्वजनिक बैठक को संबोधित करते हुए पीएम मोदी ने कहा कि ‘भाई-भतीजावाद’ लोकतंत्र के लिए खतरा है और नई प्रतिभाओं को उभरने नहीं देता। पीएम मोदी ने इंडिया गठबंधन नेताओं पर यह कहने के लिए हमला किया कि उनका कोई परिवार नहीं है।

पीएम ने कहा कि जम्मू-कश्मीर से लेकर तमिलनाडु तक शासक परिवार मजबूत हुए हैं, लेकिन राज्य कमजोर हो गए हैं। प्रधानमंत्री ने आरोप लगाया कि कांग्रेस और उसके सहयोगी उन्हें और उनके परिवार को गाली देने के स्तर तक गिर गये हैं। उन्होंने कहा, ”वे मुझे गाली दे रहे हैं क्योंकि मैं उनके हजारों करोड़ रुपये के घोटालों का पर्दाफाश करता हूं। मैं भाई-भतीजावाद के खिलाफ हूं, लेकिन मैं व्यक्तिगत आरोप नहीं लगाता।’

उन्होंने कहा, ”मैं कहता हूं कि भाई-भतीजावाद लोकतंत्र के लिए खतरा है, यह प्रतिभा और युवाओं के खिलाफ है लेकिन वे कह रहे हैं कि मोदी का कोई परिवार नहीं है। क्या परिवारों के पास चोरी करने का लाइसेंस है? क्या वे चोरी करने और बिजली हड़पने के लिए स्वतंत्र हैं?

पीएम ने फिर दोहराया कि 140 करोड़ भारतीय उनका परिवार

पीएम मोदी ने कहा कि उन्होंने ऐसा मुख्यमंत्री देखा है, जिसके परिवार के 50 सदस्य उच्च पदों पर हैं। उन्होंने विपक्षी नेताओं की उनके इस दावे के लिए आलोचना की कि वे उनके खिलाफ वैचारिक लड़ाई लड़ रहे हैं। पीएम मोदी ने कहा,“वे कहते हैं परिवार पहले, मैं कहता हूं देश पहले। ये वैचारिक लड़ाई है। उनके लिए उनका परिवार ही सब कुछ है और मेरे लिए देश का हर परिवार ही सब कुछ है। अपने पारिवारिक हितों के लिए, उन्होंने देश के हितों का बलिदान कर दिया और मैंने देश के हितों के लिए खुद का बलिदान दिया। उन्होंने दोहराया कि 140 करोड़ भारतीय उनका परिवार हैं।”

ये भी पढ़ें..कर्नाटक के डिप्टी CM डीके शिवकुमार को SC से बड़ी राहत, निरस्त हुआ मनी लॉड्रिंग मामला

प्रधानमंत्री ने कहा कि परिवार केंद्रित पार्टियां इतनी असुरक्षित हैं कि वे युवाओं को राजनीति में आने ही नहीं देतीं। “जब से कांग्रेस परिवारवादी बनी है, उसने 50 वर्ष से कम उम्र के किसी भी व्यक्ति को आने की अनुमति नहीं दी है। वे 75, 80 और 85 साल के लोगों को लाते हैं, क्योंकि उन्हें डर है कि अगर 50-55 साल के लोग आकर उनसे आगे निकल गए तो उनके परिवार का क्या होगा।” पीएम ने दावा किया कि वह राजनीति में ईमानदार युवाओं को बढ़ावा दे रहे हैं।

परिवारवादियों ने अपनी तिजोरियां भरने के लिए देश को लूटा

पीएम मोदी ने यह भी आरोप लगाया कि वंशवादियों ने अपना खजाना भरने के लिए देश को लूटा, जबकि वह अपना वेतन लोगों पर खर्च करते हैं। उन्होंने परिवार केंद्रित पार्टियों के नेताओं पर काले धन को सफेद करने के लिए महंगे उपहार लेने का भी आरोप लगाया।

प्रधानमंत्री ने दावा किया कि उन्होंने सभी उपहार तोशा खाना में जमा कर दिए थे, जिन्हें गंगा परियोजना के लिए धन जुटाने के लिए नीलाम किया गया था। प्रधानमंत्री ने कहा कि उपहारों की नीलामी से अब तक 150 करोड़ रुपये एकत्र हुए हैं और यह पैसा सार्वजनिक सेवाओं पर खर्च किया गया है।

उन्होंने यह भी आरोप लगाया कि परिवार के सदस्यों ने काला धन छुपाने के लिए विदेशी बैंकों में खाते खोले। “मोदी ने करोड़ों गरीबों के जनधन खाते खोले। यही अंतर है। उन्होंने अपने परिवारों के लिए महल बनाए, लेकिन मोदी ने अपना घर तक नहीं बनाया। मोदी गरीबों के लिए घर बना रहे हैं। “गरीबों के लिए अब तक 4 करोड़ घर बनाए जा चुके हैं।”

(अन्य खबरों के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर(X) पर फॉलो करें व हमारे यूट्यूब चैनल को भी सब्सक्राइब करें)